|

कलेक्ट्रेट सभागार मे सड़क सुरक्षा को लेकर मीटिंग का आयोजन।

संवाददाता‚ रोहित कुमार‚ अमरोहाः वृहस्पतिवार को कलेक्ट्रेट सभागार मे सड़क सुरक्षा समिति व जनपद के समस्त स्कूलों के प्रधानाचार्यो की एक बैठक जिला अधिकारी उमेश मिश्र की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई। जिसमे पुलिस अधीक्षक विपिन टाडा, जिला विद्यालय निरीक्षक  रामाज्ञा कुमार, उपअधीक्षक यातायात कुलदीप कुकरेती, सुरक्षा समिति के सदस्य अनिल कुमार जग्गा, गुलशन कुमार पुरी लगभग 250 विद्यालयों के प्रधानाचार्यो ने प्रतिभाग किया। बैठक का संचालन सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी प्रवर्तन ए0के0सिंह राजपूत ने किया। बैठक में सर्वप्रथम प्रवर्तन ए0के सिंह राजपूत जिला विद्यालय परिवहन यान सुरक्षा समिति की गत 10 जूलाई को हूई बैठक की  कार्यावाही से सभी को अवगत कराया। जिसमे समस्त प्रधानाचार्यो से उनके विद्यालयों में विद्यालय परिवहन सुरक्षा समिति की गठन के बारे में जानकारी चाही, ओर साथ ही  विद्यालयो ने अपने विद्यालयों में परिवहन सुरक्षा समिति का गठन कर प्रथम बैठक करा ली है। जिसमे विभिन्न विद्यालयो के प्रधानाचार्यो ने अवगत कराया। कि समिति के लिये जिन सदस्यो को जिला स्तर से नामित किया जाना था। उनकी सूचना हमें अभी तक प्राप्त नही हुई हैं। इस कारण विद्यालय परिवहन सुरक्षा समिति का गठन नही हो सका।  इस पर अध्यक्ष/जिला अधिकारी ने जिला विद्यालय निरीक्षक से विद्यालय परिवहन सुरक्षा समिति के लिये नामनिर्दिष्ट अधिकारियों के संदर्भ में देरी का कारण जाना और बैठक में उपस्थित समस्त प्रधानाचार्य को बताया कि जनपद में तहसीलदारो की संख्या कम हैं। इस लिये जिला अधिकारी द्वारा सभी ब्लाक के खण्ड विकास अधिकारी अथवा सहायक खण्ड विकास अधिकारी जिला अधिकारी द्वारा नामनिर्दिष्ट अधिकारी होगे। इसी प्रकार जिला विद्यालय निरीक्षक द्वारा बताया गया कि विद्यालय के निकटतम राजकीय इण्टर कालेज के प्रधानाचार्य जिला विद्यालय निरीक्षक द्वारा नामनिर्दिष्ट अधिकारी होगे। इसी प्रकार जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी द्वारा सम्बन्धित खण्ड शिक्षा अधिकारी समिति के नामित सदस्य होगें। बैठक में पुलिस अधीक्षक डा0 विपिन ताडा ने सभी प्रधानाचार्य को बताया कि सभी चौकी इंचार्ज समिति के सदस्य होंगे। इस संदर्भ में सभी थाना प्रभारियों को दिशानिर्देश दिये जा चुके हैं समस्त प्रधानाचार्य अपने अपने विद्यालय के सीमांर्तगत थाना प्रभारीयो से सम्पर्क कर ले जिस दिन आप बैठक करेगे। पुलिस को बैठक की सूचना देगें। उस दिन थाना प्रभारी सम्बन्धित को बैठक में भेज देगें। तथा पुलिस अधीक्षक ने स्कूल बस के चालकों के पुलिस सत्यापन ना कराने पर असंतोष जाहिर किया।  कहा कि जो काम आप लोगो को स्वयं कराना चाहिये। उसके लिये हमें बार बार आपसे कहना पड़ रहा हैं। ​अगर बाद में कोई घटना घटित होती हैं तो फिर जिम्मेदारी भी आप लोगो की ही होगी। और हम सीधे सीधे आपको ही दोषी मानेगे। इस लिये बेहतर हैं कि आप अपने समस्त वाहन चालको परिचालको के साथ साथ सभी कर्मचारियो के सत्यापन के लिये आनलाइन आवेदन कर दें। आपको 7 दिन से लेकर 21 दिन के भीतर सत्यापन प्रमाण—पत्र आनलाइन ही उपलब्ध हो जायेगा। बैठक के अन्त में जिला अधिकारी ने वरिष्ट सहायक सम्भागीय परिवहन अधिकारी को निर्देश दिये कि संशोधित नियमावली का पालन ना करने वाले किसी भी वाहन को स्कूल वाहन के लिये अनापत्ति प्रमाण—पत्र एवं फिटनस जब तक जारी ना की जाये। जब तक स्कूल वाहन सभी निर्धारित मानको को पूरा ना कर लें । तथा सभी स्कूलो को नोटिस जारी कर दिया जाये कि जिस स्कूल मे भी अद्योमानक वाहन पाया गया। उस स्कूल वाहन के पंजीयन के साथ साथ स्कूल मान्यता भी समाप्त की जायेगे। बच्चो की सुरक्षा और सड़क दुर्घटनाओं को रोकना शासन की पहली प्राथमिकता हैं। इसमें किसी प्रकार की ढिलाई बर्दाशत नही की जायेगी । सभी विद्यालय 14 अगस्त तक हर कीमत पर विद्यालय परिवहन सुरक्षा समिति को गठित कर उसकी बैठक करा कर उसका कार्यव्रत परिवहन विभाग में जमा करा दे। समस्त विद्यालय मेरे आदेशानुसार विद्यालय के द्वार पर इस आश्य का नाटिस चस्पा करेंगे, कि कोई भी नाबालिक बच्चा स्कूल में किसी भी प्रकार का वाहन नही लायेगा। अगर फिर भी कोई बच्चा वाहन लेकर आता हैं तो आप समबन्धित थाने को उसकी सूचना देंगे। फिर उस पर पुलिस अपना काम करेगी।

Posted by रवि चौहान on 6:43 pm. Filed under , . You can follow any responses to this entry through the RSS 2.0. Feel free to leave a response

0 टिप्पणियाँ for "कलेक्ट्रेट सभागार मे सड़क सुरक्षा को लेकर मीटिंग का आयोजन।"

Leave a reply

सर्वाधिक पढ़ी गयी

Recently Added

Recently Commented