|

आर्टिकल 370 हटाने के मामले में भारत को मिला रूस का खुला साथ, राजदूत बोले- यह आंतरिक मामला।

ब्यूरो⁄संवाददाता‚ आशीष सैनीः जम्मू-कश्मीर के मुद्दे पर पाकिस्तान को एक और झटका लगा है। रूस ने इस मुद्दे पर साफ कहा है कि अनुच्छेद 370 (Article 370) को हटाना भारत का अंदरूनी मुद्दा है। भारत में रूस के राजदूत निकोलाय कुदाशेव ने कहा कि अनुच्छेद 370 को निरस्त करना भारत सरकार का संप्रभु निर्णय है। यह भारत का आंतरिक मामला है और भारत तथा पाकिस्तान के बीच शिमला और लाहौर समझौते के तहत इस तरह के मुद्दों को हल किया जा सकता है। हमारे विचार बिल्कुल भारत के जैसे ही हैं। रूस ने साथ ही कहा, 'हमारा मानना है कि 'भारत-पाक को मुद्दों को बातचीत के माध्यम से हल करने की आवश्यकता है। कश्मीर भारत का एक आंतरिक मुद्दा है।' उन्होंने कहा कि मतभेदों को शिमला समझौते और लाहौर समझौते के मद्देनजर हल किया जाना चाहिए।

हमारी कोई भूमिका नहीं- रूस

वहीं, भारत में रूसी दूतावास के उप प्रमुख  रोमन बाबूसकिन ने कहा कि भारत-पाकिस्तान विवाद में  रूस की कोई भूमिका नहीं है, जब तक कि दोनों मध्यस्थता के बारे में हमसे बात नहीं करते। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) में बंद दरवाजे के कार्यक्रम के दौरान, हमने दोहराया कि कश्मीर भारत का एक आंतरिक मुद्दा है।

5 और 6 अगस्त को बिल हुआ था पास
बता दें 5 अगस्त को राज्यसभा और 6 अगस्त को लोकसभा में अनुच्छेद 370 की अधिकतर धाराओं को खत्म कर जम्मू कश्मीर एवं लद्दाख को दो केन्द्र शासित क्षेत्र बनाने संबंधी सरकार के दो संकल्पों को मंजूरी दे दी थी।

Posted by रवि चौहान on 2:49 pm. Filed under , , , , , . You can follow any responses to this entry through the RSS 2.0. Feel free to leave a response

0 टिप्पणियाँ for "आर्टिकल 370 हटाने के मामले में भारत को मिला रूस का खुला साथ, राजदूत बोले- यह आंतरिक मामला।"

Leave a reply

सर्वाधिक पढ़ी गयी

Recently Added

Recently Commented