|

जिला मजिस्ट्रेट ने जनपद गौतमबुद्धनगर मे कानून व्यवस्था एवं शांति व्यवस्था बनाये रखने के लिए आजाद उर्फ अज्जू पर लगायी रासुका

संवाददाता‚ सोनू शर्मा‚ नोएडाः गौतमबुद्दनगर जनपद की कानून व्यवस्था एवं शांति व्यवस्था तथा लोक व्यवस्था की स्थापना करने के उद्देश्य से जिला मजिस्ट्रेट बी एन सिंह के द्वारा अपराधियों के विरूद्ध निरन्तर रूप से कड़ी कार्यवाही की जा रही हैं।कलेक्ट्रेट मे प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान सोमवार को जिला मजिस्ट्रेट बी एन सिंह और एसएसपी गौतमबुद्धनगर वैभव कृष्ण के द्वारा अवगत कराया गया कि महत्वपूर्ण निर्णय लेते हुये अपराधिक प्रवृत्ति के व्यक्ति आजाद उर्फ अज्जू उम्र 35 वर्ष पुत्र रघुराज उर्फ उदयराज निवासी ग्राम तिल डेरीन थाना सिकन्द्राबाद जनपद बुलन्दशहर को एनएसए में निरूद्ध किया गया है। ज्ञातव्य हो कि आजाद उर्फ अज्जू के द्वारा अन्र्तराष्ट्रीय ओप्पो कम्पनी जिसमे 30 हजार भारतीयों को रोजगार की योजना है। और 2000 करोड़ निवेश प्रस्तावित है। ओप्पो कम्पनी के अधिकारी कम्पनी की विस्तारीकरण योजना के लिए यूनिट में उत्पादन में सहायक संयत्रों की स्थापना के लिए कुछ फर्मो से बिल्डिंग मैटेरियल की सप्लाई ले रहे है। आजाद उर्फ अज्जू के द्वारा अपने स्वयं आर्थिक लाभ के लिये दबाव बनाने हेतु गोली बारी की घटना को अंजाम दिया गया। विगत 31 जनवरी 2019 को रात्रि समय 11.15 बजे ओप्पो कम्पनी गेट नंबर 2 पर गोलीबारी के सम्बंध में धारा 147,148,149,307,120 बी भादवि तथा 3/4 फरवरी 2019 की रात्रि 2:10 बजे ओप्पो कम्पनी के निकट लुक्सर रोड तिराहे पर आप व आपके साथियों सचिन, अरूण पुत्र कटार, अरूण उर्फ गुलजार पुत्र हेमसिंह व रोबिन से हुई मुठभेड के सम्बंध में मुकदमा अपराध संख्या 26/2018अन्तर्गत धारा 147,148,307 भादवि के तहत मुकदमा दर्ज है। इस घटना के कारण उपरोक्त कम्पनी व आसपास के क्षेत्र में अफरा-तफरी मच गयी और लोगों में भय आंतक व्याप्त हो गया। जिससे जनजीवन का सामान्य प्रवाह, अमन चैन तथा लोक व्यवस्था बुरी तरह प्रवाहित हो गयी थी। सरकार के उद्योगों को सुरक्षात्मक वातारण प्रदान करने की वचनबद्धता पर विपरीत प्रभाव पड़ने के साथ साथ विश्व में देश व प्रदेश की छवि प्रभावित हो रही है। और विदेशी राष्ट्र चीन के साथ भारत के सम्बन्धों के आर्थिक सहयोग निति पर अत्यन्त प्रतिकूल प्रभाव पड़ा है।आजाद उर्फ अज्जू वर्तमान में थाना इकोटेक प्रथम गौतमबुद्धनर के मुकदमा अपराध संख्या 24/2019 अन्तर्गत धारा 147,148,149,307,120बी भादवि के अपराध में जिला कारागार में न्याययिक अभिरक्षा में निरूद्ध है। उनके द्वारा लगातार अपने निकट सहयोगी एवं परिवारजन के सहयोग से जेल से बाहर आने के लिए निरन्तर प्रयासरत हैं। आपका मुकदमा अपराध संख्या 29/2019 में सत्र न्यायालय से जमानत प्रार्थना-पत्र स्वीकृत हो चुका है। आपने 1030 संख्या 24/2019 में सत्र न्यायालय से जमानत प्रार्थना-पत्र दिनांक 19 जून 2019 को निरस्त होने पर उच्च न्यायालय इलाहाबाद में प्रार्थना-पत्र जमानत प्रस्तुत किया गया है। जो अभी विचाराधीन है तथा शीघ्र सुनवाई एवं आदेश में निश्चित है।आजाद उर्फ अज्जू उम्र 35 वर्ष पुत्र रघुराज उर्फ उदयराज निवासी ग्राम तिल डेरीन थाना सिकन्द्राबाद जनपद बुलन्दशहर को राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम 1980 की धारा 3(2) के अधीन निरुद्व नही रखा गया तो अभियक्त के द्वारा पुनः ऐसे ही जघन्य अपराध की पुनरावृत्ति की जायेगी तथा लोकव्यवस्था की स्थापना करने में बाधक बनेगे। इसी को दृष्टिगत रखते हुये इन पर रासुका लगायी गयी है। इस घटना के क्रम में इससे पूर्व रोबिन उम्र 22 वर्ष पुत्र जयप्रकाश निवासी ग्राम घिटोरा थाना खेकडा जनपद बागपत को भी रासूका में निरूद्ध किया गया था। जो वर्तमान में कारागार में बंद है।

Posted by रवि चौहान on 6:22 pm. Filed under , . You can follow any responses to this entry through the RSS 2.0. Feel free to leave a response

0 टिप्पणियाँ for "जिला मजिस्ट्रेट ने जनपद गौतमबुद्धनगर मे कानून व्यवस्था एवं शांति व्यवस्था बनाये रखने के लिए आजाद उर्फ अज्जू पर लगायी रासुका "

Leave a reply

सर्वाधिक पढ़ी गयी

Recently Added

Recently Commented