किसानों की आय को दोगुनी करने के उद्देश्य से जनपद में किसान पाठशालाओं का किया जा रहा है आयोजन

संवाददाता, सोनू शर्मा, ग्रेटर नोएडा संवाददाता, उत्तर प्रदेश सरकार की मंशा के अनुरूप किसानों की आय को दोगुना किया जाने के उद्देश्य से कृषि विभाग के द्वारा अनेक कार्यक्रम संचालित किए जा रहे हैं। जिसके अंतर्गत जिलाधिकारी गौतमबुद्धनगर बी एन सिंह के निर्देशन में कृषि विभाग के तत्वाधान में किसान पाठशाला ओं का आयोजन किया जा रहा है। इस क्रम में गुरुवार को दतावली गांव में किसान पाठशाला का आयोजन किया गया। जहां पर कृषि वैज्ञानिकों एवं कृषि विभाग के अधिकारियों द्वारा किसानों को अपनी खेती में नई नई तकनीक, उत्तम प्रजाति के बीज तथा अन्य सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं का लाभ उठाते हुए  किस प्रकार अपनी आय को बढ़ा सकते हैं। सभी बिंदुओं पर विस्तार परक रूप से किसानों को जानकारी उपलब्ध कराई गई। किसान पाठशाला में किसानों की फसल में बुवाई से लेकर कटाई तक जो कार्रवाई वैज्ञानिक तरीके से करते हुए उनकी आय दोगुनी हो सकती है। उसके संबंध में कृषि वैज्ञानिकों द्वारा विस्तारित रूप से जानकारी किसानों को किसान पाठशाला में उपलब्ध कराई गई। आयोजित किसान पाठशाला में उपनिदेशक कृषि मनवीर सिंह के द्वारा किसानों के हितों में  चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं की व्यापक जानकारी उपलब्ध कराई गई । यह जानकारी जिला कृषि अधिकारी तनवी शर्मा के द्वारा दी गई है।

6:11 pm | Posted in , | Read More »

दादरी तहसील के अधिकारियों द्वारा 19 लाख 50 हजार रुपए की गयी वसूली

संवाददाता, सोनू शर्मा, ग्रेटर नोएडा संवाददाता, गौतमबुद्दनगर जिले के जिलाधिकारी बी एन सिंह के निर्देश पर उपजिलाधिकारी दादरी राजीव राय एवं उनके सहयोगी अधिकारी आलोक प्रताप सिंह तथा नायब तहसीलदार दुर्गेश सिंह के द्वारा राजस्व वसूली के उद्देश्य से निरंतर रूप से अभियान संचालित किया जा रहा है। गुरुवार को राजस्व वसूली का अभियान संचालित करते हुए ए आई एम एस प्रमोटर्स से रेरा की बकाया के सापेक्ष 19 लाख 50 हजार की वसूली तहसील दादरी के अधिकारियों द्वारा सुनिश्चित की गई है।

6:09 pm | Posted in , | Read More »

अमरोहा: युवक की गुप्तांग कटी लाश मिलने से फैली सनसनी।

जनपद अमरोहा के गजरौला थाना क्षेत्र इलाके के मोहल्ला अंबेडकर नगर में अहरौला तेजवन मार्ग पर एक निर्माणाधीन दुकान के पीछे युवक की गुप्तांग कटी लाश मिलने से इलाके में सनसनी फैल गई। सूचना पाकर  पुलिस क्षेत्राधिकारी मोनिका यादव और गजरौला प्रभारी निरिक्षक नीरज कुमार अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंच गए। हम आपको बता दें कि पुलिस द्वारा मिली जानकारी के अनुसार युवक की शिनाख्त मोहल्ला अंबेडकर नगर निवासी 30 वर्षीय वीरेंद्र उर्फ बबलू पुत्र मदन पाल  के रूप में हुई है। मृतक के छोटे भाई राहुल ने बताया की वीरेंद्र उसका बड़ा भाई था, और वह मेहनत मजदूरी कर किसी तरह से अपने परिवार का पालन पोषण कर रहा था 7 साल पहले उसकी पत्नी पूजा की भी मृत्यु हो चुकी है। वीरेंद्र के दो बच्चे है, एक बेटा और एक बेटी।मृतक कल  सुबह 10:00 बजे से घर से चला गया था, जब  देर शाम तक घर नहीं पहुंचा तो परिजनों द्वारा रात भर इसकी तलाश की गई। लेकिन उसका कोई सुराग नहीं लगा। इसके बाद आज  मोहल्ले से कुछ ही दूरी पर एक निर्माणाधीन दुकान के पीछे इसका गुप्तांग कटा  हुआ शव बरामद हुआ है। पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया हैं और घटना की जांच पड़ताल में जुट गई है।

4:54 pm | Posted in , | Read More »

अवैध सम्बन्ध होने के शक में पति और पत्नी ने मौत को गले लगाया

संवाददाता, संदीप कुमार, फतेहपुर: चांदपुर थाना क्षेत्र के गोपालपुर गांव में मोनू पुत्र बाबू उम्र 22 वर्ष व पत्नी करिश्मा उम्र 20 वर्ष बीती रात मौत को गले लगाया। सूत्रों से मिली जानकारी से पता चला कि मोनू की शादी 10 अप्रैल 2018 को रस पाल पुर गांव में हुई थी। जिसको लड़की के चाचा रामू ने किया था एक सप्ताह तक तो सब कुछ ठीक चला इसके बाद आये दिन झगड़ा कर पत्नी करिश्मा अपने जीजा रामू पुत्र मइयादीन निवासी बारा थाना जाफरगंज के यहा झगड़कर भाग जाया करती थी। जिसकी शिकायत मोनू ने अपने साले करन को टेलीफोन द्वारा 3 महीने पहले सूचित किया था मोनू ने मौके पर आए साले ने बहन की बात सुनते ही अपने बहनोई मोनू को बेल्टों द्वारा मार कूट कर चला गया तब से पति पत्नी के सम्बंध अच्छे नही रहे पति मोनू महेनत कर के जो भी रुपये लाता था उसकी पत्नी जेब से खींच लेती थी जिसको लेकर दोनों में आये दिन नोक झोक बनी रहती थी।  11 तारीख दिन मंगलवार को मोनू मजदूरी कर घर पहुच तो करिश्मा ने उसकी जेब से मजदूरी के रुपये निकल लिए पूछताछ करने पर झगड़कर चुपचाप बैठे गयी मोनू फिर से मजदूरी करने चला गया। कल दिन बुधवार को शाम को 4 बजे पत्नी अपने जीजा के यहाँ बिना बताए जा रही थी उधर रास्ते मे मोनू मजदूरी कर रहा था तभी मोनू के साथियों ने बताया कि तुम्हारी बीबी जा रही है मोनू दौड़कर फुसलाकर पुनः घर ले आया घर पर सन्ति पूर्ण माहौल देखकर पुनः काम मे चला गया और जब काम करके वापस आया तो देखा कि पत्नी करिश्मा म्रतक पड़ी हुई है म्रत्यु की सूचना ग्राम प्रधान मुलायम को देकर अपने रिस्तेदारो को सूचना देने हेतु दौड़ना सुरु कर दिया। इसके बाद माता कुसमा ने बताया कि मै नही जान पायी की मेरा पुत्र किस समय गांव किनारे नीम के पेड़ पर फांसी लगा लिया यह जानकारी मुझे भोर पहर 4 बजे हुई मौत की सूचना मिलते ही माता का रो रो कर बुरा हाल हो गया ग्राम प्रधान ने घटना की जानकारी एस ओ चाँदपुर कैलाश नाथ को देना चाहा लेकिन सरकारी नम्बर नही लगने के कारण ग्राम प्रधान मुलायम द्वारा सीधे जनपद फतेहपुर के नव आगन्तुक पुलिसः अधीक्षक को सूचना दे दी जिसकी सूचना मिलने के बाद एस ओ चंदपुर ने घटना स्थल पर पहुच कर दोनों मृतको का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

4:48 pm | Posted in , | Read More »

दरवेश यादव हत्याकांडः पांच गोलियां, तीन निशाने, एक जिंदगी खत्म

मंडल ब्यूरो, उदयवीर सिंह, आगरा: समय : दोपहर 2:45 बजे  स्थान : अधिवक्ता अरविंद मिश्रा का चेंबर धांय.... धांय.... धांय.... धांय... धांय। एक मिनट से कम समय के भीतर पांच गोलियां चलीं। पहले एक, फिर एक साथ तीन, फिर एक। ये गोलियां चलाईं मनीष ने। निशाने पर तीन लोग थे। दरवेश यादव, उनका रिश्तेदार मनोज और मनीष खुद। फायरिंग थमने के बाद मनोज डर के मारे जमीन पर बैठा हुआ था बुरी तरह सहमा हुआ मानो मौत उसके सामने हो, जबकि दरवेश और मनीष गोली लगने से खून से लथपथ जमीन पर पड़े थे। मौके पर 10-15 लोग थे। सभी सन्न थे, सहमे हुए थे। किसी तरह खुद को संभालकर दरवेश और मनीष को अस्पताल पहुंचाया। दरवेश की जान नहीं बच सकी। मनीष कोमा में है। सब कुछ इतना अचानक हुआ कि हर कोई अवाक रह गया। मनीष के इरादे खतरनाक है, यह सबको मालूम था, लेकिन इतने खतरनाक है, इसका अंदाजा किसी को भी नहीं था। वह गुस्से से भरा घूम रहा था, गुमसुम था, लेकिन उसका चेहरा सामान्य लग रहा था। बुधवार को दरवेश का स्वागत समारोह था। तमाम अधिवक्ता ही नहीं, न्यायिक अधिकारी भी उनका स्वागत कर रहे थे। लेकिन, मनीष शर्मा नहीं पहुंचा था। कुछ अधिवक्ताओं ने उससे फोन पर कहा कि गिले शिकवे अपनी जगह हैं, कुछ तुम्हारी शिकायतें हैं, कुछ दरवेश की हैं, आ जाओ, मिल बैठकर बात करेंगे, तनाव दूर हो जाएगा। मनीष मान गया, थोड़ी देर में आ भी गया तो सभी को लगा कि गुस्सा थूककर आया है, किसे मालूम था कि वह ईर्ष्या की आग में जल रहा है। वह पिस्टल में गोलियां डालकर लाया था। कुछ लोगों ने हत्याकांड से कुछ ही देर पहले उसे पिस्टल को चेक करते हुए देखा था। चश्मदीदों ने बताया कि अधिवक्ता अरविंद मिश्रा के चैंबर में टेबल के एक तरफ दरवेश थीं, दूसरी ओर मनीष था। दरवेश के पास ही मनोज और अन्य रिश्तेदार खड़े थे। मनीष के पास कुछ वकील खड़े थे। मनीष गुस्से में तेज बोल रहा था। दरवेश के भाई सनी यादव ने तहरीर में कुछ यही घटनाक्रम बताया है। पुलिस को मौके से चार खोखे बरामद हुए हैं।लोगों ने बताया कि दरवेश मनीष को समझा रहीं थी। दरवेश के रिश्तेदार भी कह रहे थे कि मनीष तुम्हारा व्यवहार ठीक नहीं है, लेकिन मनीष कुछ मान नहीं रहा था, अपनी कह रहा था, कुछ सुनने के लिए तैयार ही नहीं था। तभी दरवेश से मनीष ने कुछ कहा। मनीष ने ठीक से जवाब नहीं दिया, तभी दरवेश का रिश्तेदार मनोज बीच में बोल पड़ा।  उसका बोलना था कि मनीष आपा खो बैठा। चश्मदीदों की मानें तो उसने कहा कि तुझे आज नहीं छोड़ूंगा। यह कहते ही मनीष ने अंटी से निकाल ली। लोग समझे कि डरा रहा है, लेकिन उसने पिस्टल मनोज पर तान दी। अगले ही पल गोली भी चला दी। पिस्टल के खुद पर तनते ही मनोज नीचे झुक गया था। इस कारण गोली उसे नहीं लगी। मनोज पर गोली चलते ही दरवेश मनीष पर चिल्लाईं, तेरा दिमाग खराब हो गया। मनीष के सिर अब खून सवार था। लोगों ने बताया कि वह रुका ही नहीं। मनोज से निशाना हटाया और पिस्टल को दरवेश की तरफ मोड़ दिया।  कोई अपनी जगह से हिल भी नहीं पाया, मनीष ने दरवेश पर एक के बाद एक तीन गोलियां चला दीं। एक उनके सिर में लगी। दो सीने पर लगीं। वह लहुलुहान होकर गिर पड़ीं। अस्पताल पहुंचते ही डॉक्टरों ने कहा कि उनकी जान जा चुकी है। दरवेश को तीन गोली लगते ही मनीष समझ गया होगा कि वह बचने वाली नहीं है। वहां मौजूद लोग कुछ समझ पाते, इससे पहले मनीष ने एक गोली अपनी कनपटी पर मार ली। यह कनपटी को पार करके सिर के दूसरी ओर निकल गई है। उसकी हालत बेहद गंभीर है। आगरा से दिल्ली रेफर किया गया है। उसके परिवार में कोहराम मचा है।

1:52 pm | Posted in , | Read More »

यूपी बार काउंसिल की अध्यक्ष को दी अंतिम विदाई, कानून मंत्री बोले- कोर्ट परिसर में सुरक्षा होगी कड़ी

मंडल ब्यूरो, उदयवीर सिंह, आगरा: यूपी बार काउंसिल की अध्यक्ष दरवेश यादव का अंतिम संस्कार आज उनके पैतृक गांव मलावन क्षेत्र के गांव चांदपुर थरौली में कर दिया गया। अंतिम संस्कार के समय लोगों की भारी भीड़ मौजूद थी। दरवेश की हत्या के बाद परिवार में कोहराम मचा हुआ है। यूपी सरकार की तरफ से कानून मंत्री बृजेश पाठक यहां मौजूद रहे। उन्हें कहा कि कोर्ट परिसर की सुरक्षा बढ़ाई जाएगी। बता दें कि दरवेश यादव मूल रूप से एटा की रहने वाली थीं। उन्हें हाल ही में यूपी बार काउंसिल का अध्यक्ष नियुक्त किया गया था। आगरा के दीवानी परिसर में स्वागत समारोह के बाद उनके साथी अधिवक्ता ने गोली मार हत्या कर दी थी। हत्या के बाद वृद्ध मां गंगा देवी सहित अन्य परिजनों में चीख पुकार मच गई। जानकारी पाकर भाई पंजाब सिंह सहित अन्य लोग उनके एटा आवास पर पहुंच गए। दरवेश यादव का पार्थिव शरीर गुरुवार सुबह मलावन क्षेत्र के गांव चांदपुर थरौरी लाया गया। जहां नम आंखों से लोगों ने उन्हें अंतिम विदाई दी। दरवेश यादव के भतीजे पार्थ यादव ने मुखाग्नि दी। उत्तर प्रदेश बार काउंसिल की अध्यक्ष दरवेश यादव के अंतिम संस्कार में पहुंचे प्रदेश कानून मंत्री ब्रजेश पाठक ने कहा कि प्रदेश में अपराधी भयभीत हैं। लगातार हो रही घटनाओं के सवाल पर कहा जल्द ही सभी अपराधी पकड़े जाएंगे। कचहरी परिसर की सुरक्षा और पुख्ता की जाएगी। कचहरी में वकीलों के बस्तों से आसपास भी पुलिस पिकेट लगाई जाएगी। कहा कि मुख्यमंत्री ने सभी जिले के कप्तानों को कानून व्यवस्था सुदृढ़ रखने के निर्देश दिए हैं, ऐसा न करने वालों की छुट्टी होगी।

1:49 pm | Posted in , | Read More »

दरवेश हत्याकांडः बेटी बनकर किया परिवार का नाम रोशन, कहती थीं- शिक्षा सबसे बड़ी ताकत

मंडल ब्यूरो, उदयवीर सिंह, आगरा: अधिवक्ता दरवेश यादव का जीवन हौसले की मिसाल रहा। उन्हें कदम कदम पर संघर्ष करना पड़ा लेकिन, कभी हिम्मत नहीं हारी। सात साल की थीं जब सिर से पिता का साया उठ गया। इसके बाद खुद संभली, पढ़ाई की, भाई-बहन को पढ़ाया। वकालत में आने से पहले उन्होंने साहिबाबाद के एक लॉ कॉलेज में पढ़ाया था। जब काला कोट पहना तो, पीछे मुड़कर नहीं देखा। उनकी गिनती तेज तर्रार अधिवक्ताओं में होती थी। खासकर उत्पीड़न की शिकार महिलाओं को न्याय दिलाने के लिए वह हमेशा तत्पर रहती थीं। दरवेश यादव मूल रूप से एटा की रहने वाली थीं। वहां कलक्ट्रेट के पास ही उनका मकान है। पिता रामेश्वर दयाल डीएसपी थे। उनके निधन के बाद दरवेश के सामने बड़ा संकट था। सात साल की ही थीं। मां ने बहुत सहारा दिया। दरवेश कहती थीं, सबसे बड़ी ताकत शिक्षा की है। उन्होंने इसी को हथियार बनाया था। वकालत की पढ़ाई की और भाई-बहनों को पढ़ाया। आगरा में 2004 से बतौर अधिवक्ता प्रैक्टिस कर रही थीं। दरवेश तीन बहनों में सबसे बड़ी थीं। एक भाई है पंजाब सिंह यादव। उनकी बहन खिल्लो देवी पुलिस में थीं, आगरा में तैनात थीं, उनकी ड्यूटी के दौरान मौत हो गई थी। खिल्लो की बेटी कंचन सब इंस्पेक्टर हैं। तीसरी बहन संतोष देवी हैं। पंजाब सिंह के बेटे सनी यादव हैं जिन्होंने रिपोर्ट दर्ज कराई है। दरवेश चार मार्च 2012 को यूपी बार काउंसिल की सदस्य बनी थीं। 2017 में उपाध्यक्ष चुनी गई थीं। कुछ समय के लिए कार्यकारी अध्यक्ष रहीं। इस बार के चुनाव में कांटे का मुकाबला था। वाराणसी के हरिशंकर और दरवेश को बराबर 12-12 वोट मिले थे। तय हुआ था दरवेश सिंह पहले छह माह और शेष छह माह हरिशंकर अध्यक्ष रहेंगे। दरवेश यूपी बार काउंसिल की पहली महिला अध्यक्ष थीं। इस पद पर तीन दिन ही रह पाईं। दरवेश यादव आगरा में खंडपीठ के लिए आवाज बुलंद कर रही थीं। उनके बार काउंसिल अध्यक्ष बन जाने के बाद उम्मीद थी कि यह आवाज और बुलंद होगी। उन्होंने कहा था कि उनका प्रयास रहेगा कि जसवंत सिंह आयोग की रिपोर्ट लागू कराई जाए। दो दिन पहले ही कहा था, मेरी जीत, सभी अधिवक्ताओं की जीत है।

1:48 pm | Posted in , | Read More »

आगामी ईद के त्यौहार के मद्देनजर जहाँगीरपुर पुलिस चौकी मे किया गया शान्ति समिति की मीटिंग का आयोजन

ग्रेटर नोएडा संवाददाता, आगामी ईद के त्यौहार मद्देनजर ग्रेटर नोएडा के जेवर थाना क्षेत्र के जहाँगीरपुर कस्बे मे सोमवार को पुलिस चौकी प्रभारी सुरेन्द्र कुमार गौतम ने कस्बे के सभ्रान्त नागरिकों के साथ पुलिस चौकी परिसर मे शान्ति समिति की मीटिंग का आयोजन किया। जहाँगीरपुर पुलिस चौकी प्रभारी ने सभी सभ्रान्त व्यक्तियों से उनकी समस्याओं की जानकारी कर उनका समाधान भी किया। चौकी प्रभारी ने सभी को आगाह किया कि कोई ऐसा कार्य करने की कोशिश ना करें जिससे कस्बे का माहौल बिगड़ जाये। कस्बे का माहौल को बिगाड़ने वाले असामाजिक तत्वों के साथ सख्ती से निबटा जायेगा। उनके द्वारा सभी गणमान्य व्यक्तियों से पूर्व की तरह ही आपसी प्यार और भाईचारे के साथ ईद के त्यौहार को शान्ति पूर्वक मनाने की अपील की गयी। कस्बे के सभी गणमान्य व्यक्तियों ने भी चौकी प्रभारी को पूर्ण रूप से आश्वस्त किया कि ईद का त्यौहार पूर्व की भांति शान्तिपूर्ण तरीके और हर्षोल्लास के साथ मनाया जायेगा। मीटिंग मे जहाँगीरपुर चेयरमैन जयप्रकाश शर्मा, पूर्व चेयरमैन मूलचन्द शर्मा, अशोक वर्मा, गुड्डू बौहरे, बालेन्द्र कौशिक, राजू सिंह,दीपक चौधरी, यामीन खाँ, यासीन खाँ, हाजी फराहीम,जानेआलम नूरी, आसमौहम्मद के अलावा कस्बे के अन्य गणमान्य लोग भी उपस्थित रहे। 

6:33 pm | Posted in , | Read More »

ग्रीन फील्ड जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट की स्थापना के सम्बन्ध मे संबंधित अधिकारियों द्वारा गांव गांव में जाकर किसानों को पहुंचाया जा रहा है लाभ

ग्रेटर नोएडा संवाददाता, जिलाधिकारी गौतमबुद्धनगर बी एन सिंह जेवर ग्रीन फील्ड इंटरनेशनल एयरपोर्ट की स्थापना को लेकर बहुत ही गंभीरता के साथ कार्यवाही सुनिश्चित कर रहे हैं। एयरपोर्ट से संबंधित सभी कार्यों को जिलाधिकारी के निर्देशन में समय बद्धता के साथ पूर्ण करने की कार्यवाही की जा रही है। जेवर एयरपोर्ट में जिन किसानों की भूमि का अधिग्रहण किया गया है उनकी भूमि के प्रतिकर का लाभ आसानी के साथ उन्हें प्राप्त हो सके इसलिए जिलाधिकारी बी एन सिंह के निर्देश पर तहसीलदार जेवर राकेश जयंत के द्वारा संबंधित ग्रामों में पहुंचकर किसानों की फाइलों का निपटारा किया गया ताकि सभी किसानों का भुगतान समयबद्धता के साथ संभव हो सके। तहसीलदार के द्वारा ग्राम किशोरपुर, दयानतपुर, रोही तथा रनैहरा में पहुंचकर किसानों की फाइलों का निस्तारण किया गया।

6:32 pm | Posted in , | Read More »

आत्महत्या के लिए युवती ने लगाई गंगनहर में छलांग, नहर में नहा रहे युवकों ने बचाया।

शनिवार दोपहर मेरठ करनाल हाइवे स्थित नानू पुल पर पहुंची एक युवती ने आत्महत्या के इरादे से गंगनहर में छलांग लगा दी। गनीमत रही कि उस समय मौके पर नहा रहे कुछ युवकों ने नहर में कूदकर युवती की जान बचा ली। बाद में युवती को गंग नहर पर मौजूद पुलिसकर्मियों के हवाले कर दिया गया। युवती कंकरखेड़ा क्षेत्र की एक कालोनी की बताई गई है।चर्चा है कि युवती ने ग्यारवीं की कक्षा में फेल होने पर आत्मघाती कदम उठाया था। हालांकि कुछ लोग मामले को प्रेम प्रसंग का होने की चर्चा कर रहे थे।

7:39 pm | Posted in , , , | Read More »

मेरठ: बडे भाई ने की छोटे भाई की गला रेत कर निर्मम हत्या।

मेरठ। संवाददाता प्रवीण सैनी।  लावड़ मेरठ क्या इनसान इतना भी क्रूर हो सकता है की महज घरेलू विवाद  की वजह से अपने सगे भाई की नृशंस हत्या कर दे।  इंचौली थाना क्षेत्र के कस्बा लावड़  मोहल्ला खटीकयान मे दयाराम खटीक का परिवार रहता है। दयाराम की परिवार में चार बेटे हैं। जहां आज दोपहर दयाराम की  सबसे बड़े बेटे राजेंद्र ने घरेलू विवाद के कारण अपने छोटे भाई सतेंदर उर्फ लुक्का  की निर्मम हत्या कर दी क्रूरता की इन्तहा यह देखिए कि पहले अपने भाई को ईट पत्थरों से पीट-पीट कर  मरणासन्न कर दिया, इस पर भी चैन नहीं मिला तो सीने पर बैठकर ताबड़तोड़ चाकू के वार से आरोपी ने गर्दन रेतते हुए मृतक के शरीर के तीन टुकड़े कर दिए।  जिसकी भनक आसपास के लोगों को लगी तो उन्होंने इस  मामले की सूचना  पुलिस को दी। हत्या की सूचना मिलने पर लावड़  चौकी इंचार्ज धर्मेंद्र कुमार एवं इंचौली थाना अध्यक्ष मनोज कुमार शर्मा मय फोर्स के घटनास्थल पर पहुंचे। जिसमे पुलिस के पहुंचने से पहले ही आरोपी राजेंद्र अपनी पत्नी एवं बेटे के साथ  मौके से फरार हो गया। मौके पर पहुंची पुलिस ने घटनास्थल का बारीकी से निरीक्षण करते हुए जांच शुरू की जिसमें काफी तलाशने के बावजूद भी पुलिस को  हत्या में प्रयुक्त हथियार बरामद नहीं हो सका। जिसके बाद पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया ।आसपास के  लोगों ने जानकारी देते हुए बताया कि मृतक सतेंदर उर्फ लुक्का वह उसके बड़े भाई राजेंद्र में घरेलू विवाद के करण अक्सर झगड़ा हुआ करता था। जो कि लगभग रोज की बात थी जिस कारण मोहल्ले का कोई भी व्यक्ति उनके पारिवारिक झगड़े में अपनी दखल अंदाजी नहीं करता था। लेकिन उन्हें यह मालूम नहीं था कि आज इस झगड़े का अंजाम सतेंदर उर्फ लुक्का की हत्या तक पहुंच जाएगा।

7:38 pm | Posted in , , , | Read More »

सर्वाधिक पढ़ी गयी

Recently Added

Recently Commented