|

डग्गामार टैक्सी में करते थे चोरी, कंकरखेड़ा पुलिस के हत्थे चढ़े।

संवाददाता‚ प्रवीन सैनी‚ मेरठ। डग्गामार टैक्सी में सफर करने वाले यात्रियों के बैग से शातिर तरीके से नकदी-जेवरात चोरी करने वाला गिरोह रविवार को कंकरखेड़ा पुलिस के हत्थे चढ़ गया। गिरोह में शामिल विकास पुत्र गन्नी व उसकी पत्नी मीला निवासी भोजपुर पट्टी गाजियाबाद व संजीत निवासी योगीपुरा हापुड़ को पुलिस ने जेल भेज दिया। जबकि दो महिलाओं को पूछताछ के बाद छोड़ दिया गया। यह गिरोह हाईवे पर ऐसे यात्रियों की तलाश में रहते थे, जिनके पास बड़ा बैग हो। इक्को गाड़ी चालक के साथ उसका साथी बैठता था। बीच की सीट खाली रहती थी। जबकि सबसे पीछे गिरोह की महिला सदस्य बच्चों के साथ बैठती थी। शिकार बनाने के लिए यात्री को बीच की सीट पर बैठा देते थे। उसका बैग सीट के नीचे रखवाने के लिए सीट भी ऊंची करा रखी थी। गाड़ी चलने के बाद मौका मिलते ही पीछे बैठी महिला बैग खींच कर उसमें से नकदी-जेवरात आदि निकाल लेती थी। इसके बाद बैग की चेन पर एल्फी लगाकर उसे चिपका देती। जिससे शक होने पर यात्री एकदम से अपना बैग खोलकर न देख सके। काम हो जाने के बाद अचानक रास्ते में एआरटीओ खड़े होने का शोर मचाकर यात्रियों को उतार कर फरार हो जाते थे। शनिवार को सरधना क्षेत्र के बहादरपुर गांव निवासी विपिन अपनी बहन संगीता के साथ एक शादी समारोह में मोदीनगर जा रहे थे। संगीता के पति पुष्पेंद्र कुमार ट्रैफिक पुलिस में दारोगा हैं। भाई-बहन कंकरखेड़ा में बाइपास से इको में सवार हुए। कुछ दूर बाद ही गिरोह ने अपने काम को अंजाम दे दिया। जब एआरटीओ का शोर मचाया तो विपिन का माथा ठनका। उनके बैग से करीब 20 हजार की नकदी व सोने की चेन, अंगूठी, कुंडल आदि साफ हो चुके थे। उसने चालक को रोककर परिजनों व पुलिस को सूचना दी। इंस्पेक्टर आनंद प्रकाश मिश्र का कहना है कि गिरोह ने क्षेत्र में कई घटनाएं करना कबूल की हैं।

Posted by रवि चौहान on 6:38 pm. Filed under , . You can follow any responses to this entry through the RSS 2.0. Feel free to leave a response

0 टिप्पणियाँ for "डग्गामार टैक्सी में करते थे चोरी, कंकरखेड़ा पुलिस के हत्थे चढ़े।"

Leave a reply

सर्वाधिक पढ़ी गयी

Recently Added

Recently Commented