|

नकली पुलिस लखनऊ से गिरफ्तार

देहरादून ब्रेकिंग न्यूज़ राजधानी देहरादून नकली पुलिस बनकर लोगों से चेकिंग के नाम पर ज्वेलरी ठगी करने वाले अंतर राज्य ईरानी गैंग की एक महिला सदस्य वह भारी मात्रा में ठगी की लाखों रुपए की ज्वेलरी के साथ लखनऊ से गिरफ्तार दिनांक 24 जनवरी 2019 को श्रीमती सुनीता शर्मा पत्नी श्री धीरेंद्र शर्मा निवासी लुनिया मोहल्ला देहरादून में धारा चौकी पर लिखित सूचना दी कि उनके पति श्री धीरेंद्र शर्मा किसी काम से चकराता रोड पर जा रहे थे तभी दो व्यक्तियों ने उन्हें चौक मोहल्ला वाली गली में बुलाया वे दोनों सादे वस्त्रों में थे उनसे यह कहकर पुलिस वाले हैं यहां 24 जनवरी के कारण चेकिंग चल रही है और उनकी तलाशी लेने लगे उन्होंने कहा कि आपके पास जो भी सोने की चीज वह अपनी कोई भी कीमती चीज उसको एक रुमाल में रख लो इसके बाद उनके पति ने दो मुट्ठी और एक चाबी रुमाल में रख ले और इसी बीच उन्होंने बातों बातों में रुमाल से दोनों अंगूठियां गायब कर दी उसमें केवल चाबियां ही रह गई थी इस सूचना पर चौकी धारा पर उचित धाराओं में अभियोग पंजीकृत किया गया प्रारंभिक पूछताछ पर पुलिस द्वारा बताया गया कि दोनों व्यक्तियों के साथ एक महिला भी थी जो उनसे कुछ दूर पर खड़ी थी घटना के संबंध में श्रीमान पुलिस अधीक्षक महोदय को अवगत कराया गया प्रकार की घटनाओं का देहरादून प्रकाश में आया है जिसको महोदय द्वारा गंभीरता से लेते हुए उक्त घटनाओं के अनावरण हेतु आवश्यक दिशा निर्देश के अनुपालन में श्रीमान पुलिस अधीक्षक नगर व सीओ सिटी महोदय के निकट पर्यवेक्षण में प्रभारी निरीक्षक के निर्देशन में वरिष्ठ उप निरीक्षक कोतवाली नगर के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया गया टीम द्वारा घटना से संबंधित लोगों से पूछताछ की गई घटनास्थल के आसपास के आने जाने वाले रास्ते पर लगे सीसीटीवी सीसीटीवी कैमरा चेक किए गए करीब 50 कैमरे चेक करने के बाद संदिग्धों की कुछ फोटोग्राफ प्राप्त हुई जो प्रथम दृष्टया देखने में सदा क्राइम की मौत आप रैंडी में ईरानी गैंग के सदस्य होना प्रतीत हुआ इसी इनपुट के माध्यम से संपूर्ण भारत में रह रहे रानीगंज के सदस्यों की पहचान हेतु उनके फोटोग्राफ पुलिस सूत्रों को व्हाट्सएप के माध्यम से प्रेषित किया गया अन्य राज्यों की पुलिस से भी इनपुट को साझा किया गया तमाम अन्य पुलिस प्रैक्टिस के बाद सूचना मिलेगी जैसी रानी के लोगों को देहरादून पुलिस तलाश कर रही है वह मूल रूप से बीदर कर्नाटक के रहने वाले हैं फोटोग्राफ से ही प्रतीत होते हैं वर्तमान में लखनऊ में किराए पर उत्तर प्रदेश राजस्थान मध्य प्रदेश दिल्ली हरियाणा पंजाब में घटना को अंजाम दे रहे हैं एक या दो महिलाओं को भी रखते हैं एवं उक्त के संबंध में जानकारी प्राप्त कर उच्चाधिकारियों को अवगत कराया गया पुलिस महा निरीक्षक महोदय थाना कोतवाली नगर से लखनऊ रवाना किया गया टीम द्वारा कुशलता का परिचय देते हुए इनके संबंध में जानकारी करते हुए सेक्सी करते हुए दिनांक 5 जनवरी 2019 को सूचना मिली कि दोनों अभियुक्त एक महिला के साथ ज्वेलरी बेचने के लिए आ रहे हैं महिला को जलाते हैं कि कोई को देखकर पुलिस का पालन करते हुए आने वाले रास्ते की गई की गई भारी मात्रा में ज्वेलरी के साथ गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की गई तथा अन्य दो अभियुक्तों का फायदा उठाकर लगातार जारी है उनको भी गिरफ्तार किया जाएगा गिरफ्तार अभियुक्त को आज माननीय न्यायालय पेश किया जा रहा है गिरफ्तार अभी युक्ता फिजा जाफरी पत्नी मोहम्मद अली सरफराज जाफरी निवासी भीम मंडी थाना शांति नगर जिला ठाणे महाराष्ट्र उम्र 40 वर्ष वांछित अभियुक्त गण मोहम्मद अली सरफराज जाफरी उर्फ सिटी पुथरा एजाज अहमद जाफरी एवं अली मिर्जा पुत्र दरवेश रानी निवासी भीम मंडी थाना शांति नगर जिला ठाणे उम्र 40 वर्ष बरामद सामान का विवरण एक अंगूठी सोने की एक अंगूठी सोने की मौत मोती मूंगा जड़ी एक गले की चैन दो सोने की चूड़ियां अंगूठी सोने की सभी लेडीस एक गले की चैन दो अंगूठियां दो चूड़ी लेडीस और लगभग ₹500000 नगद दो मोबाइल 4 सिम कार्ड दो पैन कार्ड एक आधार कार्ड एक काला बैग पूछताछ पर गुप्ता ने बताया कि यह भिवंडी महाराष्ट्र के निवासी है सतीश का पति है अली मिर्जा की बहन है हाथ की सफाई इन का पुश्तैनी काम है इस काम को अपनी पुस्तकों से करते आ रहे हैं इसके द्वारा बताया गया कि अली मिर्जा उसका सगा भाई है सिटी और एलिमेंट जा दोनों अलग-अलग राज्यों शहरों में जाकर लोगों को फर्जी पुलिस बनकर कभी चेकिंग के नाम पर तो कभी बुड्ढा व्यक्ति के जोड़ों में दर्द बता कर उनके पहने युवकों शुद्ध करने के काम नाम पर तो कभी क्राइम ब्रांच की टीम बनकर चेकिंग करने के नाम पर लोगों से उनके रहने दे और अगर किसी लिफाफे में रख लेते हैं और हाथ की सफाई से नजर बचाकर नकली बदल देते हैं उत्तर प्रदेश राजस्थान महाराष्ट्र गुजरात दिल्ली हरियाणा पंजाब हिमाचल प्रदेश उत्तराखंड 24 जनवरी को यह भी उनके साथ आई थी जब घटना करने के बाद जो भी ज्वेलरी मिलती थी तो यह ज्वेलरी इसको दे देते और यह किसी ज्वैलरी शॉप पर जाकर उसको भेज देती थी महिलाओं पर कोई शक भी नहीं करता इस प्रकार इन के द्वारा यह भी बताया गया कि स्थिति और अली मिर्जा दोनों अपनी बाइक से उत्तराखंड पहले भी कई बार आ चुके हैं पिछले साल यह दोनों मार्च और मई और अक्टूबर के महीने में आए थे मार्च और मई में दो बुजुर्ग महिलाओं को उन्होंने अपना शिकार बनाया था उनमें जो ज्वेलरी मिली थी उनमें से कुछ भेज दिया था जो कुछ बची थी वह आज बेचने जा रही थी इसके अलावा 24 तारीख की घटना में एक बुजुर्ग को शिकार बनाया था उसकी भी दोनों अंगूठियां बेचने जा रही थी साथ में थे जो वहां से भाग गए बताया गया उनका बड़ा बेटा भी चैन स्नैचिंग और काम करता है अभी 8 दिन पहले ही मुंबई पुलिस ने उसको पकड़ा है अक्टूबर 18 मई को लखनऊ से आया था हैदराबाद गया वहां से आ गया था लखनऊ में रहते हैं आते हैं लोग जाते हैं छा जाते हैं और आप के पास ही रखो इनके विरुद्ध अभियोग पंजीकृत है तथा अन्य स्थानों से आपराधिक इतिहास की जानकारी की जा रही है पुलिस टीम प्रभारी निरीक्षक एसएस नेगी अशोक राठौड़ दीपक धारीवाल अली रोहित शर्मा तकनीकी सहयोग प्रमोद

Posted by रवि चौहान on 7:41 pm. Filed under , , , . You can follow any responses to this entry through the RSS 2.0. Feel free to leave a response

0 टिप्पणियाँ for " नकली पुलिस लखनऊ से गिरफ्तार"

Leave a reply

सर्वाधिक पढ़ी गयी

Recently Added

Recently Commented