|

एक्सप्रेस-वे पर काम शुरू, अब मार्च माह से आगे खिंचेगा।

संवाददाता‚ नीरज गोला‚ मेरठ। 12 दिन की रोक के बाद दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे का निर्माण कार्य मंगलवार की सुबह शुरू हो गया। पहले दिन दिल्ली-मेरठ हाईवे के किनारे ही निर्माण कार्य धीमी गति से चला। मेरठ के काशी गांव में सड़क निर्माण मंगलवार को भी शुरू नहीं हो सका क्योंकि श्रमिक मंगलवार देर शाम तक ही पहुंच सके थे। एनएचएआइ और कार्यदायी निर्माण कंपनी का दावा है कि बुधवार से निर्माण की गति तेज कर दी जाएगी।

हवा में बढ़ते प्रदूषण के स्तर को देखते हुए एनसीआर में 12 दिनों तक निर्माण कार्य पर पाबंदी का खासा असर दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे पर भी पड़ता दिख रहा है। अगस्त माह में बारिश की वजह से लगभग एक माह तक कार्य प्रभावित हुआ। उसके बाद नवंबर के शुरुआत में कार्य पर रोक की वजह से तय समय में काम पूरा करना एनएचएआइ के लिए असंभव-सा होता दिख रहा है। अधिकारियों की मानें तो इस 12 दिन की बंदी के बाद मार्च, 2019 तक काम पूरा कर लेना बहुत बड़ी चुनौती है। जल्द ही रिव्यू कर कामकाज की गति को और बढ़ाया जाएगा। अभी सड़क निर्माण के साथ ही रेल ओवर ब्रिज, फ्लाईओवर, इंटरचेंज आदि बड़े स्ट्रक्चर का भी निर्माण करना है। बता दें कि दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे के चौथे फेज के काम के तहत डासना से मेरठ के बीच 32 किमी लंबे ग्रीनफिल्ड एक्सप्रेस-वे का काम मार्च, 2019 तक पूरा करना था ताकि मौजूदा केंद्र सरकार चुनाव आचार संहिता से पहले ही इस प्रोजेक्ट का उद्घाटन कर सके। दूसरे हिस्से में काम नहीं कर पा रही कंपनी

दिल्ली-मेरठ हाईवे के एक छोर पर तो इंटरचेंज का काम चल रहा है, लेकिन परतापुर की ओर 800 मीटर दूर तक भूमि अधिग्रहण न होने की वजह से कार्यदायी कंपनी कोई काम नहीं कर पा रही है। जिला प्रशासन अधिग्रहण की प्रक्रिया शुरू करने की बात कर रहा है, लेकिन यह कब तक पूरा होगा, इसकी तिथि बताने में कोई भी सक्षम नहीं है। बता दें कि इस छोर से ही लिंक रोड बनेगी जिससे मेरठ के यात्री इस एक्सप्रेस-वे पर चढ़ पाएंगे। इनका कहना--
12 दिन के रोक के बाद निर्माण कार्य हमने शुरू कर दिया है। पहले दिन कार्य की गति धीमी जरूर रही लेकिन जल्द ही हम रफ्तार पकड़ेंगे।

-किशोर कान्याल, परियोजना निदेशक, ग्रीनफिल्ड एक्सप्रेस-वे जापानी टीम ने पेरीफेरल एक्सप्रेस-वे का देखा टोल प्लाजा

जापान के सड़क-भूमि, पर्यटन मंत्रालय के प्रतिनिधियों के साथ जायका एक्सप‌र्ट्स कंपनी, निपन कोई कंपनी लि. और फुजित्सु लि. के 20 सदस्यीय पदाधिकारियों की टीम ने मंगलवार को ईस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेस-वे का दौरा किया। उन्होंने कुंडली टोल प्लाजा को देखा। थाई थीम पर इस आइकोनिक टोल प्लाजा को देख वे काफी प्रभावित हुए। यहीं पर बने देश के पहले डिजिटल आर्ट गैलरी में ईपीई के निर्माण प्रक्रिया को भी जाना। साथ ही टीम ने कुंडली से मुरादनगर तक इस एक्सप्रेस-वे का निरीक्षण किया। बता दें कि एनएचएआइ जापान की कंपनी के आर्थिक सहयोग से ही इस एक्सप्रे-वे पर इंटीग्रेटेड ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम लगा रही है। इसकी मॉनीट¨रग आइकोनिक टोल प्लाजा से ही होगी। पूरे एक्सप्रेस-वे पर सीसीटीवी लगाए जाएंगे ताकि 135 किमी में कहीं कोई हादसा या दिक्कत हो तो उसका तत्काल निदान कराया जा सके।

Posted by रवि चौहान on 6:51 pm. Filed under , , , , , , . You can follow any responses to this entry through the RSS 2.0. Feel free to leave a response

0 टिप्पणियाँ for "एक्सप्रेस-वे पर काम शुरू, अब मार्च माह से आगे खिंचेगा। "

Leave a reply

सर्वाधिक पढ़ी गयी

Recently Added

Recently Commented