|

लोगों को कागज की गड्डी दिखाकर व देकर ठगी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश, तीन अभियुक्त गिरफ्तार

सोनू शर्मा संवाददाता, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक गौतमबुद्धनगर डाॅ अजयपाल शर्मा के नेतृत्व मे जनपद पुलिस द्वारा अपराधियो के विरूद्ध चलाये जा रहे निरन्तर अभियान के अन्तर्गत आज नोयडा के थाना सैक्टर 20 पुलिस न एचडीएफसी बैंक सैक्टर 1 से तीन ठगों आबिद उर्फ सचिन पुत्र समीर निवासी बेहरी बाजार थाना भेरो पटटी जिला दरभंगा बिहार, राकेश कुमार पुत्र सहदेव सिंह निवासी ज्योतिया मोड जीरवावाडी छोटा पंचगड साहेबगंज झारखण्ड, रामपुकार राय पुत्र दारोगाराय निवासी कौटी थाना पनापुर जिला मुजफ्फरपुर बिहार को गिरफ्तार कर लिया। अभियुक्त लोगों को कागज की गड्डी दिखाकर जिसके उपर नीचे एक नोट असली होता था दे देते थे तथा उनसे उसके बदले उनके मोबाइल फोन, रूपये एवं जेवर ले लेते थे। गिरफ्तार किये गये तीनो ठगों से दो गड्डी कागज की जिसमें एक गड्डी में उपर 500 रूपये का नोट असली व दूसरी गड्डी में ऊपर पचास रूपये का नोट असली लगा हुआ और 1250 रूपये नगद बरामद किये गये है । पकडे गये तीनो ठगों ने दो व्यक्तियों से कुछ दिन पहले दो ठगी की घटना थाना क्षेत्र में की है जिसके मुकदमे थाना हाजा पर पंजीकृत है। दोनो मुकदमों के वादियों ने पकडे गये तीनो ठगो को मौके पर पहचाना है। गिरफ्तार अभियुक्त शातिर किस्म के अपराधी है। अभियुक्तगण बैंको/बस अड्डो, रेलवे स्टेशनों के आस खडे हो जाते थे। तथा भोले भाले लोगो को कागज की गड्डी,जिसके उपर नीचे एक नोट असली होता था, को रूमाल में रखकर दिखाते थे  तथा उन लोगो से उसके बदले ज्वैलरी, मोबाइल, रूपये ठग लेते थे। अभियुक्तगण भोले भाले लोगो से कहते थे कि हम लोग अपने मालिक के यहाँ से रूपये चुराकर लाये है। हमारा कोई बैंक खाता नहीं है। आप अपने खाते में डाल ले आप इसमें से कुछ पैसे मुझे नगद में दे दे ताकि मेरा मालिक मुझ पर शक न करे या उनसे ज्वैलरी/मोबाइल ले लेते थे।  भोले भाले लोग उनके बहकावें में आकर ठगी का शिकार हो जाते थे। गिरफ्तार अभियुक्तों को न्यायिक हिरासत में भेजा जा रहा है। 

Posted by रवि चौहान on 6:53 pm. Filed under , , , , , . You can follow any responses to this entry through the RSS 2.0. Feel free to leave a response

0 टिप्पणियाँ for "लोगों को कागज की गड्डी दिखाकर व देकर ठगी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश, तीन अभियुक्त गिरफ्तार"

Leave a reply

सर्वाधिक पढ़ी गयी

Recently Added

Recently Commented