|

फ़ोन करने पर भी नहीं आयी एम्बुलेंस, प्रसूता ने घोडा तांगा में जन्मा बच्चा।

उत्तर प्रदेश के मथुरा जनपद में स्वास्थ्य सेवाएं लोगो को नही मिल रही है। ताजा मामला थाना राया के सरकारी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का है जहाँ एक प्रसूता ने घोड़ा गाड़ी (तांगा) में अस्पताल के सामने बच्चे को जन्म दिया। जबकि परिजनों का आरोप है कि एम्बुलेंस को फोन किया गया लेकिन उन्हें स्वास्थ सेवाएं नही उपलब्ध हो पाई। प्रसूता रामवती पत्नी देवेंद्र को सुबह प्रसव पीड़ा हुई तो घरवालों ने 108,102 एम्बुलेंस को फोन किया। घंटों तक एम्बुलेंस नही पहुँची तो परिजन महिला के दर्द को देख घबरा गए और तांगे में लेकर अस्पताल के लिए चल दिये। प्रसव पीड़ा से कराहती महिला का प्रसव अस्पताल के गेट पर ही हो गया। महिला ने लड़के को जन्म दिया है और फ़िलहाल जच्चा-बच्चा दोनों स्वस्थ हैं। अब सवाल उठता है कि सरकार स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाने की बात कह रही है। फिर भी लगता नहीं कि सरकारी स्वास्थ सेवाएं आम जनता तक पहुँच रही हैं।

Posted by रवि चौहान on 6:10 pm. Filed under , , , , , . You can follow any responses to this entry through the RSS 2.0. Feel free to leave a response

0 टिप्पणियाँ for "फ़ोन करने पर भी नहीं आयी एम्बुलेंस, प्रसूता ने घोडा तांगा में जन्मा बच्चा।"

Leave a reply

सर्वाधिक पढ़ी गयी

Recently Added

Recently Commented