|

सरकारी डॉक्टर ने वृद्धा को दवाई मांगने पर भगा दिया।

दीपक कुमार जांगिड ब्यूरो शामली। कांधला में प्राथमिक सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के सरकारी डॉक्टर कर रहे हैं अपनी मनमानी, मरीजों को नहीं मिल रहा उपचार, गरीबों को नहीं दी जाती यहां पर दवाइयां, मामला जनपद शामली के थानाक्षेत्र कांधला के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का है। दरअसल आपको बता दें जनपद शामली के कांधला सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में डॉक्टर तो जरूर आते हैं। लेकिन वह मरीजों का उपचार नहीं करते हैं और अगर एक 2 मरीजों को देख भी लेते हैं। तो उनको दवाई लिख दी जाती है और जब वह दवाई लेने के लिए फार्मेसिस्ट के पास जाते हैं। तो वहां पर उनको भगा दिया जाता है। यह कह कर कि दवाइयां खत्म हो गई है। तीन-चार दिन बाद आएगी ऐसा ही एक मामला आज देखने को मिला है। जब एक वृद्धा हॉस्पिटल में अपनी शुगर की दवाई लेने के लिए गई। तो वहां पर घण्टो इंतजार के बाद डॉक्टर ने पर्चे पर दवाई को लिख दी। लेकिन उनको यह कहकर भगा दिया कि यहां पर दवाई नहीं है‚ और तीन-चार दिन में दवाइयां आएगी। जरा आप खुद सोचिए कि गरीब आदमी जाए तो कहां जाए और तीन-चार दिन तक दवाई नहीं मिल पाएगी तो उसके जिम्मेदार कौन होगा योगी सरकार के आदेश के बाद भी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में डॉक्टर कर रहे है। अपनी मनमानी नहीं दे रहे अधिकारी इस और कोई ध्यान यह कोई पहला मामला नहीं है। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कांधला का पहला मामला नहीं है। यहां पर अधिकतर ऐसे ही मामले होते रहते हैं। अभी कुछ माह पूर्व यहां पर एक प्राइवेट मेडिकल स्टोर स्वामी डॉक्टर के पास ही बैठकर दवाइया लिखता था। जिसकी वीडियो बनाकर शिकायत सीएमओ शामली को की गई तो सीएमओ शामली ने जिस डॉक्टर के पास में बैठता था। उसको यहां से हटाकर एक गांव में स्थित कर दिया था। लेकिन उसके बाद भी यह सबक नहीं ले रहे हैं। जो उच्च अधिकारियों को खुली चुनौती देते हुए नजर आ रहे हैं।

Posted by रवि चौहान on 1:50 pm. Filed under , , , , , . You can follow any responses to this entry through the RSS 2.0. Feel free to leave a response

0 टिप्पणियाँ for "सरकारी डॉक्टर ने वृद्धा को दवाई मांगने पर भगा दिया।"

Leave a reply

सर्वाधिक पढ़ी गयी

Recently Added

Recently Commented