|

अंडरपास बना दरिया, स्कूल बस में डूबने से बचे 28 बच्चे।

संवाददाता‚ अजय पाल सिंह‚ मेरठ। खरखौदा थाना क्षेत्र में शुक्रवार को भारी बारिश के दौरान 28 बच्चों ने मौत को बेहद करीब से देखा। जलभराव की वजह से रेलवे अंडरपास में कई फिट पानी भरने से स्कूल की एक बस उसमें डूब गई। सिर्फ बस की छत ही पानी से बाहर दिख रही थी। पूरी बस में पानी भर गया था और बच्चे चीखने लगे थे। हालात को देखत हुए बस स्टाफ, बच्चों और ग्रामीणों की सांसें करीब 30 मिनट अटकी रही लेकिन ड्राइवर सुरेंद्र और ग्रामीण सरताज की बहादुरी से बच्चों को सकुशल बाहर निकाल लिया गया। दोपहर में मेरठ के परतापुर और खरखौंदा सीमा क्षेत्र के चंदसारा गांव में रेलवे अंडरपास पर बड़ी वारदात होने से बच गई। बारिश के पानी में एक स्कूली बस लगभग समा गई। पानी में बमुश्किल बस की छत ही डूबने से बच सकी। जो बस डूबी वह एनकेबीआर स्कूल फफूंडा की थी। छुट्टी के बाद 28 बच्चे घर जा रहे थे। रास्ते में आने वाले रेलवे अंडरपास में भारी बारिश से काफी पानी भरा था। ज्यादा पानी भरा देख ड्राइवर सुरेंद्र ने धीरे-धीरे बस निकालने की कोशिश की लेकिन हालात ऐसे हो गए की पानी बढ़ता गया और बस को लौटाने के स्थिति भी नहीं रही। देखते ही देखते बस में शीशों तक पानी भर गया और बस डूबने लगी। डाइवर ने किसी तरह बच्चों को इमरजेंसी एग्जिट से बाहर निकालना शुरू किया। बच्चों की चीख-पुकार सुनकर चंदसारा गांव का सरताज फरिश्ता बनकर पहुंचा। उसने साहस का परिचय देते हुए गहरे पानी में छलांग लगा दी और ड्राइवर की मदद से बच्चों को बस से निकालना शुरू कर दिया। वह बस से निकाले जाने के बाद घर पहुंच गए थे। छोटे होते बच्चे तो हो सकता था हादसा इसी बीच जिस समय बच्चों को निकाला जा रहा था उसी वक्त ट्रेन आ गई। लोग किसी और हादसे की आशंका से सहम गए। जानकारों का कहना है कि गनीमत रही कि सभी बच्चे 11 से 15 साल के बीच के थे। उन्होंने निकलने में सहयोग किया। लोगों को डर था कि अगर छोटे उम्र के बच्चे होते तो बड़ा हादसा हो सकता था।

Posted by रवि चौहान on 4:08 pm. Filed under , , , , , . You can follow any responses to this entry through the RSS 2.0. Feel free to leave a response

0 टिप्पणियाँ for "अंडरपास बना दरिया, स्कूल बस में डूबने से बचे 28 बच्चे।"

Leave a reply

सर्वाधिक पढ़ी गयी

Recently Added

Recently Commented