धोनी, विराट के बाद अब ये 'सुपर स्टार' भी टी20 ट्राई सीरीज में नहीं खेलेगा

मांसपेशियों में खिंचाव की समस्या के चलते श्रीलंका के ऑलराउंडर और कप्तान एंजेलो मैथ्यूज टी-20 ट्राई सीरीज निदास ट्रॉफी से बाहर हो गए हैं. मैथ्यूज की गैरमौजूदगी में दिनेश चांडीमल इस ट्रॉफी में श्रीलंका क्रिकेट टीम की कमान संभालेंगे. बांग्लादेश, भारत और श्रीलंका के बीच निदास ट्रॉफी का आयोजन अगले हफ्ते से होने जा रहा है. हालांकि, श्रीलंका के लिए इस ट्रॉफी में मैथ्यूज के अलावा, शेहान मधुशंका भी मांस-पेशियों में खिंचाव की समस्या और असेला गुणारत्ने भी चोटिल होने के कारण नहीं खेल पाएंगे.निदास ट्रॉफी के लिए घोषित हुई श्रीलंका क्रिकेट टीम में कुसल परेरा की वापसी हुई है. वो भी बांग्लादेश में चोटिल हुए थे, लेकिन इस सीरीज में खेलने के लिए वो फिट हैं. इस ट्रॉफी के लिए अभी संभावित श्रीलंका टीम की घोषणा की गई है. 6 मार्च से शुरू होने वाली सीरीज से ठीक पहले 15 सदस्यीय टीम की घोषणा की जाएगी श्रीलंका क्रिकेट टीम (संभावित) :- दिनेश चांडीमल (कप्तान), उपुल थारंगा, दानुश्का गुनाथीलका, कुसल मेंडिस, दासुन शनाका, कुसल परेरा, थिसारा परेरा, जीवन मेंडिस, सुरंगा लकमल, निरोशन डिकवेला, सदीरा समाराविक्रम, इसुरु उदाना, जैफ्री वांडार्से, अकीला धनंजय, अमीला अपोंसो, असिथा फर्नादो, लाहिरु कुमारा, नुवान प्रदीप, दुश्मंथा चमीरा और धनंजय डी सिल्वा.आपको बता दें टीम इंडिया ने भी कप्तान विराट कोहली को आराम दिया है जिनकी जगह कप्तानी रोहित शर्मा करेंगे, वहीं शिखर धवन टीम के उप कप्तान होंगे.. साथ ही विकेटकीपर एम एस धोनी, हार्दिक पांड्या, जसप्रीत बुमराह, कुलदीप यादव और भुवनेश्वर कुमार को भी आराम दिया गया है.

1:12 pm | Posted in , , , , , , , | Read More »

कोहली की सेना ने पानी की समस्या झेल रहे केप टाउन की कुछ ऐसे की मदद


भारतीय और दक्षिण अफ्रीकी क्रिकेट टीम ने पानी की कमी की गंभीर संकट से जूझ रहे केप टाउन शहर में पानी की बोतल पहुंचाने और बोरवेल बनवाने के लिए लगभग साढे आठ हज़ार डॉलर दान किए.टी20 सीरीज़ के तीसरे और आखिरी मैच के बाद भारतीय कप्तान विराट कोहली और दक्षिण अफ्रीका के कप्तान फाफ डू प्लेसी ने 1,00,000 रैंड (दक्षिण अफ्रीकी मुद्रा) 'द गिफ्ट ऑफ दी गिवर्स फाउंडेशन' को दान में दिए.
यह अफ्रीकी महाद्वीप का सबसे बड़ा आपदा राहत संगठन है.

1:11 pm | Posted in , , , , , , , | Read More »

इस वजह से श्रीदेवी-बोनी के बीच अक्सर हो जाता था झगड़ा


बॉलीवुड की महान अदाकारा श्रीदेवी का निधन की खबरें सुर्खियों में हैं. एक्टर के तौर पर वह महान अदाकारा ही नहीं पहली सुपरस्टार हीरोइन भी हैं लेकिन व्यक्तिगत जिंदगी में लगता है कि वो हमेशा असुरक्षा से ग्रस्त रहीं और कुछ बातों को कभी भुला नहीं पाईं, जिसके चलते जब भी उनके पति बोनी कपूर अपनी पहली पत्नी या उनके बच्चों से मिलते थे तो वो इसे कभी स्वाभाविक तरीके से नहीं ले पाती थीं.सीनियर जर्नलिस्ट और फिल्म कॉलमिस्ट भारती ए प्रधान ने करीब दो साल पहले अंग्रेजी अखबार टेलीग्राफ में अपने कॉलम में लिखा कि किस तरह बोनी को श्रीदेवी के गुस्से का सामना करना पड़ा, जब वह पहली पत्नी मोना कपूर की मां और जानी मानी फिल्म निर्माता सत्ती शौरी के अंतिम संस्कार और प्रार्थना सभा में गए.

नहीं भूल पाईं थीं सत्ती के उस व्यवहार को
दरअसल श्रीदेवी 1996 में सत्ती शौरी द्वारा उनसे किए गए व्यवहार को इतने सालों बाद भी भूल नहीं पाईं थीं. उस समय तक बोनी और मोना पति-पत्नी थे और श्रीदेवी दूसरी महिला. तब तक बोनी और श्रीदेवी के नजदीकियों की खबरें आने लगी थीं. तभी ये भी खबरें आईं कि वो गर्भवती हैं. मोना इससे बहुत आहत हुईं. उन्होंने चुपचाप खुद ब खुद बोनी से दूरियां बना लीं. लेकिन ये बात मोना की फिल्म निर्माता मां को बर्दाश्त नहीं हुई.उसी दौरान जब सत्ती को मालूम हुआ कि बोनी और श्रीदेवी जुहू के एक पांच सितारा होटल में आए हुए हैं. तो वह दनदनाते हुए वहां पहुंचीं और हंगामा खड़ा कर दिया. उन्होंने श्रीदेवी के पेट पर मारने की कोशिश की, जिसके कुछ महीनों बाद श्रीदेवी ने अपनी पहली बेटी जान्हवी को जन्म दिया. इसे श्रीदेवी कभी भूल नहीं पाईं. बीस सालों बाद भी नहीं.

बोनी का वहां जाना उन्हें अच्छा नहीं लगा
जब सत्ती का निधन हुआ तो पूरा कपूर परिवार अंतिम संस्कार में पहुंचा. बोनी भी इसमें गए. निधन के दो दिन बाद एक प्रार्थना सभा रखी गई. इसमें भी सभी पहुंचे. बोनी भी. अर्जुन और उनकी बहन अंशुला अपनी नानी के भावनात्मक तौर पर ज्यादा करीब थे. भारती ने अपने कॉलम में लिखा, पति का वहां जाना श्रीदेवी को अच्छा नहीं लगा. बोनी इसे लेकर उनके गुस्से का शिकार भी बने.

मोना के अंतिम दर्शन के लिए बस वही नहीं गईं
वहीं जानी मानी लेखिका और कॉलमिस्ट शोभा डे ने हाल में लिखा, "जब मोना कपूर (बोनी की पहली पत्नी) का निधन हुआ तो हर कोई उनके अंतिम दर्शनों के लिए पहुंचा. सभी कपूर और फिल्म इंडस्ट्री के लोग. मैं तो उस वक्त मस्कट में थी, इसलिए उसमें नहीं जा पाई. लेकिन जब मैने खबरें देखीं तो उसमें एक ही शख्स वहां नहीं दिखा, वो थीं श्रीदेवी. उनकी दोनों बेटियां भी उसमें नहीं थीं. ये मुझे कुछ खराब लगा. जबकि एक जमाने में मोना और उनके बीच अच्छी दोस्ती थी.
"तब काफी नाराज हो गईं थीं श्रीदेवी 
बॉलीवुड शादी डॉट कॉम साइट ने कुछ पुरानी फिल्मी मैगजीन के हवाले से एक रिपोर्ट दी थी कि किस तरह जब बोनी पहली पत्नी से मिले और अपने दोनों बच्चों अर्जुन और अंशुला को लेकर पिकनिक पर गए तो लौटने पर श्रीदेवी उनसे काफी नाराज हुईं. स्टारडस्ट मैगजीन ने दिया कि चीख-पुकार को पड़ोसियों ने सुना. स्टारडस्ट ने इस पर उनके कुछ पड़ोसियों की प्रतिक्रिया भी प्रकाशित की.अर्जुन कपूर ने पिछले दिनों एक टीवी पर कहा था कि मेरे रिश्ते श्रीदेवी से कभी सामान्य नहीं होंगे. वो केवल मेरे पिता की बीवी हैं और कुछ नहीं. हालांकि कुछ समय पहले उन्होंने कहा था कि वो श्रीदेवी और अपनी दोनों हाफ सिस्टर्स के लिए कोई गुस्सा नहीं रखते.

1:10 pm | Posted in , , , , , | Read More »

LIVE: राजकीय सम्मान के साथ किया जाएगा श्रीदेवी का अंतिम संस्कार, सेलिब्रेशन क्लब पहुंचा मुंबई पुलिस बैंड

सुबह 9 बजे श्रीदेवी का पार्थिव शरीर मुंबई के सेलिब्रेशन क्लब लाया गया. इसी के बाद उनके अंतिम दर्शन के लिए फैंस की भीड़ जुटनी शुरू हो गई थी. भीड़ को काबू में रखने के लिए 200 पुलिसवाले भी सेलिब्रेशन क्लब के बाहर तैनात हैं. 10 बजे के बाद आम जनता के लिए भी सेलिब्रेशन क्लब को खोल दिया गया था. बता दें कि देश भर से लोग यहां श्रीदेवी के आखिरी दर्शन के लिए आ रहे हैं. सुबह सबसे पहले करण जौहर यहां पहुंचे थे. इसके बाद से ही लगातार बॉलीवुड सेलेब्स का आना जारी है.अब तक ऐश्वर्या राय और सुष्मिता सेन के अलावा तब्बू, सुभाष घई, नीलिमा अजीज, सोनम कपूर और आनंद आहूजा भी यहां पहुंच चुके हैं. नीलिमा अजीम, जावेद अख्तर, शबाना आज़मी, मनीष मल्होत्रा और अरबाज खान जैसे कई सितारे सुबह से ही अपनी पसंदीदा अभिनेत्री को एक आखिरी झलक पाने के लिए यहां पहुंचे हुए हैं. बीती रात रजनीकांत, सलमान और शाहरुख समेत कई बड़े सितारे बोनी कपूर के घर पहुंच गए थे.श्रीदेवी के पार्थिव शरीर को लेने के लिए एयरपोर्ट पर श्रीदेवी के देवर अनिल कपूर, अनिल की बेटी और एक्ट्रेस सोनम कपूर और श्रीदेवी की सौतेली बेटी अंशुला कपूर आए थे. उन्हें दुबई से भारत लाने के लिए अर्जुन कपूर मंगलवार को ही दुबई चले गए थे. रात से ही हजारों की तादाद में लोग श्रीदेवी के घर के बाहर जुटे हुए थे.दुबई के एक होटल में बॉलीवुड की एक्ट्रेस श्रीदेवी का शनिवार रात निधन हो गया था. मौत के करीब 72 घंटों बाद श्रीदेवी का पार्थिव शरीर मंगलवार देर रात भारत लाया गया. इंडस्ट्रियलिस्ट अनिल अंबानी के प्राइवेट जेट में श्रीदेवी को दुबई से मुंबई लाई गईं.  आज दोपहर करीब 3.30 बजे श्रीदेवी का अंतिम संस्कार किया जाएगा.

1:08 pm | Posted in , , , , , | Read More »

नकाबपोश बदमाशों ने दिव्यांग ज्वेलर्स से लूटी लाखों की नकदी और गहने

दादरी शहर की जांगड़ा मार्केट में बीती देर रात रिवाल्वर के बल पर बाइक सवार तीन नकाबपोश बदमाशों ने एक दिव्यांग ज्वेलर्स से लाखों रुपये की नकदी और गहने लूट लिए. घटना की सूचना मिलते ही डीएसपी प्रदीप कुमार, सीआईए टीम और सिटी थाना पुलिस मौके पर पहुंची तथा मुआयना किया. पुलिस ने पीड़ितों को मौके पर ले जाकर पूरी जानकारी ली और अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरु कर दी है. वहीं पुलिस पूरे मामले में आसपास के सीसीटीवी कैमरों की जांच कर रही है.शहर के घिकाड़ा रोड पर स्थित भारत ज्वेलर्स का मालिक दिव्यांग जयवीर सोनी बीती देर रात अपनी दुकान बंद करके मौसेरे भाई के साथ अपनी तिपहिया मोटरसाइकिल पर घर जा रहा था. उसके पास काले रंग का एक बैग था, जिसमें सोने-चांदी के गहने और नकदी भी थी.अभी वे पूर्ण मार्केट के पीछे से होते हुए जांगड़ा मार्केट बैक साइड में पहुंचे ही था कि अचानक सफेद रंग की एक बाइक पर आए तीन नकाबपोश बदमाशों ने उनकी तिपहिया मोटरसाइकिल के आगे बाइक अड़ाकर उसे रुकवा लिया.ज्वेलर्स जयवीर और उसका भाई सत्यवान कुछ समझ पाते उससे पूर्व ही एक युवक ने रिवाल्वर निकालकर जयवीर की छाती पर अड़ा दी जबकि दो अन्य सत्यवान को पकड़ क़र दूसरी तरफ ले गए. रिवाल्वर अड़ाने वाले युवक ने जयवीर को गोली मारने की धमकी देते हुए उससे गहनों का बैग छीन लिया तथा फुर्ती से बाइक सहित फरार हो गए.घटना के तुरंत बाद पीड़ित जयवीर और सत्यवान ने शोर मचाते हुए घटना की जानकारी आस-पड़ोस के लोगों और पुलिस को दी. ज्वेलर्स से लूट की जानकारी मिलते ही तुरंत पुलिस मौके पर पहुंची औऱ मामले की जांच शुरु कर दी.

1:07 pm | Posted in , , , , , | Read More »

प्रेमी ने शादी के लिए प्रपोज किया तो प्रेमिका ने गोली मारकर कर दी हत्या

सोनीपत में प्रेम प्रसंग का एक ऐसा मामला सामने आया है जिसे सुनकर आपके होश उड़ जाएंगे. दरअसल, 17 वर्षीय एक नाबालिग प्रेमिका ने अपने प्रेमी को महज इसलिए मौत के घाट उतार दिया, क्योंकि वह प्रेमिका से शादी करना चाहता था.बताया जाता है प्रेमिका ने फिल्मी स्टाइल में अपने भाई की रायफल से गोली मारकर प्रेमी की हत्या कर दी. जांच के बाद पुलिस ने नाबालिग युवती को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया है, जहां युवती को बाल सुधार गृह में भेज दिया गया है.पुलिस जांच अधिकारी वजीर रेढू ने बताया कि मटिण्डू गांव निवासी दीपक का अपने ही गांव की युवती से पिछले कई सालों से प्रेम प्रसंग में था. दीपक अपनी प्रेमिका से शादी करना चाहता था, लेकिन उसकी प्रेमिका की शादी उसके परिवार के लोगों ने किसी दूसरी जगह तय कर दी जिस पर दीपक ने आपत्ति जताई.इसी बात से दीपक की प्रेमिका इतनी खफा हो गई कि उसने अपने भाई की रायफल ले जाकर आधी रात को दीपक के घर पर ही उसे गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया. पुलिस ने जांच के बाद युवती को गिरफ्तार कर लिया और कोर्ट में पेश किया. कोर्ट ने नाबालिग होने के कारण युवती को बाल सुधार गृह भेज दिया.

1:05 pm | Posted in , , , , | Read More »

मुख्य सचिव से मिला यूके का प्रतिनिधिमंडल, राज्य में पूंजी निवेश पर हुई चर्चा

मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह की अध्यक्षता में मंगलवार को सीएसआई में यूनाईटेड किंगडम (यूके) से आए विभिन्न क्षेत्रों के 22 प्रतिनिधियों के साथ पूंजी निवेश के बारे में विचार-विमर्श हुआ. मुख्य सचिव ने उद्योगपतियों को बताया कि राज्य में रेलवे, सड़क का नेटवर्क बढ़ रहा है. कानून व्यवस्था, बिजली की उपलब्धता, अवस्थापना सुविधाएं, राज्य सरकार द्वारा बनाई गई विभिन्न नीतियां निवेश के अनुकूल हैं.एमडी सिडकुल सौजन्या ने पावर पॉएंट प्रस्तुतीकरण के माध्यम से उत्तराखण्ड में पूंजी निवेश की अपार संभावनाओं के बारे में है. एसोचैम की रिपोर्ट के अनुसार उद्योग एवं सेवा क्षेत्र में पिछले 10 वर्षों से उत्तराखण्ड देश में उच्च स्थान पर है. परियोजना के लागू करने, निवेश परिदृश्य में सुधार करने के लिहाज से उत्तराखण्ड देश में दूसरा सर्वोत्तम परफॉर्मिंग स्टेट है. औद्योगिक सुधार को लागू करने की दिशा में उत्तराखण्ड को ईज-ऑफ-डूइंग बिजनेस में देश में 9वां स्थान मिला था. उत्तराखण्ड को लीडर स्टेट का दर्जा दिया गया था.राज्य में अनुकूल स्थान है, पर्याप्त लेबरपूल है, सबसे कम बिजली की दर है, नीति और बुनियादी सुविधा में उत्तम है, 39000 किमी रोड नेटवर्क है, दो घरेलू एयरपोर्ट हैं, 345.23 किलोमीटर रेल लाइन है. राज्य में पर्यटन, वानिकी, फूल उत्पादन, वैलनेस और आयुष, औद्योगिक सुविधा केन्द्र, जल विद्युत के क्षेत्र में पूंजी निवेश की संभावना है. सिंगल विंडो सिस्टम के तहत उद्योगों को 15 दिन के अन्दर मंजूरी दी जाती है. 100 सेवाओं में सेवा के अधिकार के अन्तर्गत समयबद्ध मंजूरी दी जाती है. इसके लिए अधिनियम बनाया गया है. 100 निवेशक सेवाओं को अधिसूचित किया गया है.इसके अलावा आईटी, एमएसएमई, स्टार्टअप, मेगा फूड पार्क, मेगा टैक्सटाइल, महिलाओं के लिए विशेष उद्यमिता, मेगा औद्योगिक और निवेश पॉलिसी बनाई गई है. राज्य में सितारगंज, काशीपुर, हरिद्वार, सेलाकुई, पंतनगर एवं कोटद्वार में सिडकुल क्षेत्र विकसित किए गए हैं. अमृतसर-कोलकाता इंडस्ट्रियल कॉरीडोर के अन्तर्गत औद्योगिक क्लस्टर खुरपीया फॉर्म, पंतनगर, काशीपुर और सितारगंज में स्थापित किए जाने वाले हैं.र्ट सिटी के सीईओ दिलीप जावलकर ने बताया कि स्मार्ट सिटी के लिए आधुनिक तकनीक की पहल की जा रही है. इसके अन्तर्गत यूटिलीटी डक्ट और कमांड एंड कंट्रोल सेंटर, ई-वाहन और यातायात प्रबंधन के लिए स्मार्ट योजना बनाई जा रही है.सचिव कौशल विकास डॉक्टर पंकज कुमार पाण्डेय ने बताया कि पर्यटन, वैलनेस, हॉस्पिटेलिटी, लाइफ साइंस आदि विभिन्न क्षेत्रों में कौशल विकास का प्रशिक्षण दिया जा रहा है. कुशल उत्तराखण्ड पोर्टल पर 13,000 युवाओं को पंजीकृत किया गया है. उत्तराखण्ड अप्रैल में आयोजित होने वाली इंडिया स्किलस प्रतियोगिता में शामिल होगा. स्किल गैप का सर्वे किया जा रहा है. उसके अनुसार कौशल की ट्रेनिंग दी जाएगी. सचिव शहरी विकास नितेश झा, अपर सचिव चन्द्रेश कुमार, अरूणेन्द्र सिंह ने भी प्रस्तुतीकरण दिया.सीआईआई के प्रतिनिधि मनु कोचर, विभा मल्होत्रा, राकेश अग्रवाल, राकेश ओबराय, लतिका मोदी और वीके धवन ने राज्य सरकार द्वारा औद्योगिक निवेश में दी जा रही सुविधाओं की सराहना की. यूके के प्रतिनिधियों ने विभिन्न क्षेत्रों में निवेश की इच्छा जाहिर की.इस अवसर पर ब्रिटिश डिप्टी हाई कमीशन के डिप्टी हाई कमीशनर एंड्रयू आयरे, हेड ऑफ ट्रेड दीपांकर चक्रवर्ती, प्रोस्पेरिटी एडवाइजर जावेद मल्ला, यूके एन्वायरोमेन्टल के एमडी अमर सेठ, सीक्यूए इन्टरनेशनल के निदेशक डेरेन ब्लान्ड, मेष प्रोजेक्ट एंड कॉस्ट मैनेजमेंट के निदेशक रूप बन्धोपाध्याय, बोलिना बूम्स के भारतीय प्रतिनिधि नरेन्द्र शर्मा, ग्रांट थॉनटन के एसोसिएट डायरेक्टर चिराग जैन, मैनेजर राहुल मोहिन्दर, सीडीई एशिया लिमिटेड के रिजनल मैनेजर सागर मछिन्द्रा, टिंटो मीटर इण्डिया प्राइवेट लिमिटेड के मैनेजिंग डायरेक्टर नीरज कर्णवाल, पार्किंग कन्ट्रोल मैनेजमेंट लिमिटेड के नेशनल मैनेजर महेश मुन्द्रा, मसाबी के भारतीय प्रतिनिधि अल्पना खेड़ा, एस्लीमेटाइज के इण्डिया मैनेजर जैनीफर स्टीवस्, मनिपाल सिटी एण्ड गिल्ट्स के सीनियर कंसलटेंट मनीषा सरीन, स्किल एनीटाईम के एजीएम, एजूकेशन एण्ड ट्रेनिंग के रितेश वशिष्ट, बिजनेस डेवलपमेंट मैनेजर सुपूजा चैहान, पर्सन एजुकेशन के डायरेक्टर वोकेशनल सचिन दुबे, रिजनल मैनेजर बलजीत सिंह, रिनॉसेंस ई-सर्विस लिमिटेड के डायरेक्टर शब्द मिश्रा, यूके स्किल लि. के ट्रस्टी एण्ड ग्लोगल हैड तेजवंत चतवाल, ओसीएस ग्रुप यूके के जनरल मैनेजर बिजनेस डेवलपमेंट अनुज मांगलिक उपस्थित थे.

1:01 pm | Posted in , , , , | Read More »

स्वाइन फ़्लू से हुई थी विधायक मगनलाल शाह की मौत, दिल्ली में हुई जांच से चला पता

थराली के विधायक मगनलाल शाह की मौत स्वाइन फ्लू से हुई थी. उनकी मौत के दो दिन बाद यह बात पता चली है. रविवार 25 फरवरी की रात करीब साढ़े दस बजे मगन लाल शाह की मौत हो हुई थी.फेफड़ों के संक्रमण पर मगनलाल शाह को 19 फरवरी को जॉलीग्रांट स्थित हिमालयन हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था. बताया गया था कि अस्पताल में भर्ती करने से करीब एक सप्ताह पहले से उन्हें बुखार और खांसी थी. हिमालयन अस्पताल प्रशासन का कहना है कि स्वाइन फ्लू के लक्षण पाए जाने पर 21 फरवरी को टीम ने सैंपल जांच के लिए दिल्ली स्थित राष्ट्रीय रोग नियंत्रण संस्थान (एनसीडीसी) की लैब भेजा था.हिमालयन अस्पताल के चिकित्साधीक्षक डॉक्टर वाईएस बिष्ट ने बताया कि स्वाइन फ्लू के लक्षण पाए जाने पर 21 फरवरी को विधायक का सैंपल लेकर दून स्थित आईडीएसपी को दे दिए थे. सोमवार को मिली रिपोर्ट में उनमें स्वाइन फ्लू की पुष्टि हुई. सोमवार को ही यह जानकारी सीएमओ कार्यालय को दे दी गई थी.अस्पताल के अनुसार भर्ती होने के बाद से ही लक्षणों के आधार पर उन्हें स्वाइन फ्लू का उपचार दिया जा रहा था. इस बीच 22 फरवरी को अचानक उन्हें सांस लेने में तकलीफ बढ़ने के साथ फेफड़ों में इंन्फेक्शन और एआरडीएस पाया गया जिसके बाद विधाक को आईसीयू में वेंटिलेटर मशीन पर रखा गया.हॉस्पिटल प्रशासन ने उपचार के दौरान दिवंगत विधायक के साथ रहे उनके परिजन और तीमारदारों से एहतियात बरतने और  च कराने की अपील की थी. अस्पताल ने विधायक के परिजनों को जांच की कराने की सलाह दी है.

12:59 pm | Posted in , , , , | Read More »

सुप्रीम कोर्ट की रोक के बाद भी जारी है करौली में अवैध खनन

राजस्थान के करौली में सुप्रीम कोर्ट के आदेश की खुले आम धज्जियां उड़ाई जा रही है. सुप्रीम कोर्ट की रोक के बाबजूद हाड़ौती बनास नदी में बजरी का अवैध खनन जारी है. नदी में चल रहा अवैध खनन ग्राम पंचायत हाड़ौती के वाशिंदों के लिए परेशानी का सबब बना हुआ है.  पुलिस, परिवहन, खनिज और वन विभाग की बजरी माफियाओं से मिलीभगत के कारण क्षेत्र बजरी से ओवरलोड़ वाहन बेखौफ दौड़ रहे हैं. जिससे किसी भी वक्त दुर्घटना हो सकती है.अवैध बजरी खनन और ओवरलोड वाहनों के विरोध में बुधवार को दर्जनों ग्रामीणों ने हाड़ौती कस्बे में सड़क पर जाम लगाकर प्रदर्शन किया. जिससे आवागमन बंद हो गया है. वहीं कस्बे के व्यापारियों ने भी बाजारों को भी बंद कर विरोध प्रदर्शन किया.ग्रामीणों का आरोप है कि सुप्रीम कोर्ट की रोक के बाद भी हाड़ौती बनास नदी के भूरी पहाड़ी, श्यामौली, हाड़ौती, काठड़ा घाटे से बजरी माफियाओं के द्वारा अवैध रूप से बजरी खनन कर प्रशासन की मिली भगत से करीब 600-700 टैक्टर-ट्रॉलियों और डंपरों में ओवरलोड़ बजरी भरकर परिवहन किया जा रहा है.जिसके कारण गत दिनों कुड़गांव थाने के थूमा गांव के पास बजरी से ओवरलोड़ भरी टैक्टर-ट्रॉली की टक्कर से युवक की मौत होने के साथ कई दुर्घटनाएं घटित हो चुकी है. बजरी से ओवरलोड़ वाहनों का अधिकांश परिवहन रात्रि के समय होता है. कई बार शिकायत करने के बाद भी पुलिस और प्रशासन कोई ध्यान नहीं दे रहा है.

12:57 pm | Posted in , , , , | Read More »

इस राजभवन में पिछले 12 सालों में हो चुका है 4 राज्यपालों का देहांत

राजस्थान विधानसभा में भूत- प्रेत होने और इसके अपशकुनी होने के अंधविश्वास के बाद अब राजस्थान के राजभवन को लेकर भी इसी तरह की चर्चा शुरू हो गई है. हालांकि इसे महज एक संयोग ही कहेंगे कि देश के बेहतरीन राजभवनों में से राजस्थान राजभवन में राज्यपाल रहते हुए पिछले 12 सालों में 4 राज्यपालों का निधन पद पर रहते हुए हो चुका है.अंधविश्वास से जुड़ी धारणाओं से विधायक ही नहीं, बड़े-बड़े नेता भी इत्तेफाक रखते आए हैं, यह विडंबना ही है कि एक संयोग को अंधविश्वास से जोड़ लिया जाता है. राजस्थान के राजभवन के बारे में बनी धारणा के की गाहे-बगाहे चर्चा होती रहती है कि यह राजभवन राज्यपालों के लिए शुभ नहीं है.राजस्थान के राजभवन के शुभ नहीं होने की धारणा की शुरुआत 1998 से होती है. 12 साल में चार राज्यपालों का पद पर रहते हुए निधन के संयोग ने अंधविश्वास की चर्चाएं तेजी से फैली. 13 मई 1998 को राज्यपाल दरबारा सिंह का लू लगने निधन हुआ. इसके बाद 22 सितंबर 2003 को राज्यपाल रहते निर्मल चंद जैन का हार्ट अटैक से निधन हो गया.वहीं, अपने बेबाक अंदाज और स्ट्रैटफार्वर्डनेस के लिए खासे चर्चित रहे राज्यपाल एसके सिंह का 1 दिसंबर 2009 को बीमारी के कारण निधन हो गया. एसके सिंह के निधन के बाद प्रभा राव राज्यपाल बनकर आईं, सिंह के निधन के पांच महीने बाद ही 26 अप्रैल 2010 को प्रभा राव का हार्ट अटैक से निधन हो गया.
13 मई 1998 को राज्यपाल दरबारा सिंह का निधन हुआ
22 सितंबर 2003 को राज्यपाल निर्मल चंद जैन का निधन
1 दिसंबर 2009 को राज्यपाल एसके सिंह का निधन
26 अप्रैल 2010 को राज्यपाल प्रभा राव का निधन
राज्यपाल रहते 2013 में मारग्रेट आल्वा के भाई का निधन हुआ
प्रभा राह के निधन के बाद उनकी जगह मारग्रेट आल्वा राज्यपाल बनकर आईं, आल्वा ने सकुशल अपना कार्यकाल पूरा किया, लेकिन राजभवन आते समय मारग्रेट आल्वा के भाई गिर गए और सिर में चोट लगने से कुछ दिन बाद ही उनका निधन हो गया. आल्वा के भाई के निधन के बाद फिर राजभवन में गड़बड़ होने के अंधविश्वास से जुड़ी चर्चाओं को फिर बल मिल गया.राजभवन से जुडे़ इस अंधविश्वास के बीच तथ्य यह भी है कि राजस्थान की राज्यपाल रहते हुए ही प्रतिभा पाटिल देश के सर्वोच्च पद राष्ट्रपति के लिए चुनी गई थीं, लेकिन अंधविश्वास की जड़े इतनी गहरी हैं कि बड़े-बड़े इसकी चपेट में हैं.

12:56 pm | Posted in , , , , | Read More »

मुंगावली-कोलारस में सत्ता का सेमीफाइनल, उपचुनाव के नतीजे बताएंगे जनता का मूड

मध्य प्रदेश पर पिछले 15 साल से राज कर रही भाजपा के लिए बुधवार को आने वाले उपचुनाव के नतीजे आगामी विधानसभा चुनाव के लिए महत्वपूर्ण साबित होंगे. दो सीटों के नतीजों से पता चल जाएगा कि राज्य की जनता भाजपा राज से खुश है या नहीं. ये नतीजे यह भी बता देंगे कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की 'लोकप्रियता' कायम है या कांग्रेस के युवा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया की ओर 'शिफ्ट' होने लगी है.शिवपुरी जिले के कोलारस और अशोकनगर के मुंगावली में उपचुनाव के तहत मतदान 24 फरवरी को हो चुका है. पांच महीने के लिए दो सीटों के लिए हुए उपचुनाव में जीत के लिए भाजपा और कांग्रेस ने कोई कोर कसर नहीं छोड़ी है.आलम यह रहा कि मुख्यमंत्री से लेकर तमाम मंत्री और केंद्रीय मंत्रियों सहित भाजपा के कई बड़े नेता कई दिनों तक इन दो इलाकों में डेरा डाले रहे, तो क्षेत्रीय सांसद व कांग्रेस नेता सिंधिया ने यहां तूफानी दौरे किए. कांग्रेस के कई अन्य बड़े नेताओं के अलावा गुजरात से हार्दिक पटेल, जिग्नेश मेवाणी व अल्पेश ठाकुर के यहां आने का दौर चलता रहा.राजनीति के जानकार गिरिजा शंकर का कहना है, "यह चुनाव सिंधिया की प्रतिष्ठा से जुड़ा हुआ है, क्योंकि जिन दो विधानसभा क्षेत्रों में उपचुनाव हुए हैं, वे सिंधिया के संसदीय क्षेत्र में आते हैं. अगर नतीजे कांग्रेस के पक्ष में जाते हैं तो प्रदेश की राजनीतिक सेहत पर बहुत ज्यादा असर नहीं पड़ेगा, क्योंकि ये उपचुनाव कांग्रेस विधायकों के निधन के चलते हुए हैं. वहीं, भाजपा की जीत होगी तो उसका श्रेय शिवराज के खाते में जाएगा और सत्ताधारियों को सिंधिया व कांग्रेस को चुप कराने के लिए एक बड़ा उदाहरण मिल जाएगा."उपचुनावों के प्रचार के दौरान तरह-तरह के रंग देखने को मिले. मुख्यमंत्री शिवराज ने मतदाताओं से लगभग हर सभा में कहा कि उनके उम्मीदवार को पांच माह सेवा का मौका दिया जाए. वे इन पांच माह में पांच साल के विकास का हिसाब बराबर कर देंगे. साथ ही उन्होंने एक बड़ी बात कह दी कि 'अगर पांच माह में वादा पूरा न हो तो आगामी चुनाव में भाजपा का साथ न दें.'वहीं सिंधिया ने हर सभा में अपने द्वारा कराए गए विकास कार्यो का हिसाब दिया. उन्होंने मुख्यमंत्री के बयान पर कई जगह चुटकी भी ली और कहा कि यहां से भाजपा का विधायक न होने के कारण शिवराज ने क्षेत्र के साथ पक्षपात किया है. अब पांच माह में पांच साल के बराबर विकास का वादा कर खुद लोगों को मजाक उड़ाने का मौका दे दिया है.राजनीतिक विश्लेषक भारत शर्मा का मानना है कि राज्य के उपचुनाव आगामी आम चुनाव के लिए बड़ा संदेश देने वाले होंगे. ऐसा इसलिए, क्योंकि भाजपा ने चुनाव जीतने के लिए जोर लगाने में कोई कसर नहीं छोड़ी. उपचुनाव से पहले जातिगत समीकरण को ध्यान में रखकर तीन मंत्री बनाए और उन्हें इस इलाके में जाति विशेष को लुभाने भेजा. इसके बावजूद कांग्रेस जीतती है तो सिंधिया का ग्राफ बढ़ेगा, कांग्रेस में जोश आएगा और भाजपा हारती है तो शिवराज सरकार व भाजपा के खिलाफ पनप रहा असंतोष और बढ़ेगा. इसके अलावा ये नतीजे आगामी आम विधानसभा चुनाव के लिए प्रदेश के मतदाताओं के 'मूड' को जाहिर करने वाले होंगे.राज्य में वर्ष 2013 की विधानसभा और 2014 के आम चुनाव के बाद हुए उपचुनावों पर नजर दौड़ाएं तो पता चलता है कि इस अवधि में 12 विधानसभा क्षेत्रों में उपचुनाव हुए। इनमें से नौ भाजपा और तीन स्थानों पर कांग्रेस ने जीत दर्ज की। वहीं वर्ष 2017 में तीन उपचुनाव हुए, जिनमें से दो कांग्रेस और एक भाजपा ने जीती थी।देश में नोटबंदी, जीएसटी लागू होने और प्रदेश के मंदसौर में किसानों पर पुलिस की गोलीबारी व लाठीचार्ज में छह किसानों की मौत, किसान आत्महत्याएं और किसान सहित विभिन्न वर्गो के आंदोलनों के बीच हो रहे इन दो उपचुनावों के नतीजे कई लिहाज से अहम हैं. जो जीतेगा वह बढ़त पाकर आगामी विधानसभा चुनाव की तैयारी उत्साह से करता नजर आएगा.

12:50 pm | Posted in , , , , | Read More »

एनडीए का साथ छोड़ महागंठबधन में शामिल हुए जीतन राम मांझी


एनडीए में हाशिये पर चल रहे हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा के नेता और बिहार के पूर्व सीएम जीतन राम मांझी ने बुधवार को महागठबंधन का दामन थाम लिया. बुधवार की सुबह बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव उनसे मुलाकात करने पहुंचे, जिसके बाद दोनों नेताओं ने बाहर आकर इसकी घोषणा की.

मांझी आज ही रात को आठ बजे प्रेस कांफ्रेंस कर के महागठबंधन में शामिल होने की औपचारिक घोषणा करेंगे. सूत्रों से जो जानकारी मिली थी उसके मुताबिक सदन की कार्यवाही शुरू होने से पहले दोनों नेताओं की मुलाकात जीतन राम मांझी के आवास पर हो सकती है और हुआ भी ऐसा ही.

सुबह 10 बजे तेजस्वी अपनी पार्टी के नेताओं भोला यादव और भाई वीरेंद्र के साथ मांझी के आवास पर मिलने जा पहुंचे. इसके कुछ देर बाद ही लालू के बड़े बेटे और पूर्व मंत्री तेजप्रताप यादव भी मांझी से मिलने उनके आवास पर जा पहुंचे. लगभग 45 मिनट की मुलाकात के बाद मांझी के साथ तेजस्वी और तेजप्रताप बाहर आये जिसके बाद मांझी ने एनडीए छोड़ने का ऐलान किया. इस दौरान तेजस्वी ने मांझी को पिता तुल्य बताया.

मांझी एनडीए में हो रही उपेक्षा से लगातार नाराज चल रहे थे और उन्होंने एनडीए छोड़ने के संकेत भी दिये थे. मांझी ने हाल के दिनों में जहानाबाद उप चुनाव में टिकट न मिलने से नाराजगी जाहिर करते हुए चुनाव प्रचार नहीं करने की बात कही थी. दूसरी ओर राजद की तरफ से लगातार मांझी को एनडीए छोड़ महागठबंधन में शामिल होने का ऑफर दिया जा रहा था.हम के प्रवक्‍ता दानिश रिजवान ने तेजस्‍वी की तारीफ के बीच कहा कि तेजस्वी यादव बड़े नेता है. मांझी के एनडीए से निकलने के बाद बिहार की राजनीति एक बार फिर से गर्मा गई है. ऐसा माना जा रहा है कि महागठबंधन में शामिल होने के बाद राजद उन्हें राज्यसभा भेज सकता है.


इस मामले में तेजस्वी यादव ने मांझी की तारीफ करते हुए कहा कि मांझी जी दलितों के बड़े नेता हैं. इन्होंने गरीबों के हित में काम किया है. लालू जी और हमारी मां से पुराना रिश्ता है. देश का माहौल ऐसा है कि गरीबों व दलितों पर अत्याचार लगातार बढ़ रहे हैं, महागठबंधन में मांझी जी आये हैं हमें इसकी ख़ुशी है.
मांझी जी हमारे अभिभावक हैं. हम उनके बेटे हैं. उनके सम्मान की चिंता न करिए. हम कर लेंगे.


बता दें कि आज रात 8 बजे जीतन राम मांझी व तेजस्वी यादव संयुक्त रूप से प्रेस कांफ्रेंस करेंगे.

12:48 pm | Posted in , , , , | Read More »

हापुड़ः चलती बस में भीषण आगजनी, खिड़कियों से कूदकर यात्रियों ने बचाई जान

हापुड जिले में मंगलवार को एक चलती प्राइवेट बस में आग लग गई. आग इतनी भंयकर थी कि बस के इंजन से शुरू होकर धीरे-धीरे पूरी बस में फैल गई. बताया जाता है बस यात्रियों से ठसाठस भरी हुई थी. हालांकि बस ड्राइवर ने समझदारी का परिचय देते हुए बस को तत्काल ब्रेक लगा दिया, जिससे भागकर यात्रियों ने अपनी जान बचा ली.रिपोर्ट के मुताबिक बस में अचानक हुई आगजनी ने थोड़े ही समय में विकराल रुप ले लिया, जिससे बस में सवार यात्रियों में पहले बाहर निकलने के लिए भगदड़ मच गई. कुछ यात्री बस की खिड़की से भू कूदकर भागते देखे गए. आगजनी बस में रखे यात्रियों के लाखों रुपए के सामान व नकदी जलकर राख हो गए.सूचना पाकर मौके पर पहुंची डायल 100 टीम ने बस यात्रियों के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू कर दिया और मामले की सूचना पुलिस व फायर ब्रिगेड को दी गई. आगजनी से बचने के लिए हुई यात्रियों के बीच हुई भगदड़ में कई बस यात्रियों के घायल हो गए हैं, जिन्हें इलाज के लिए अस्पताल पहुंचाया गया है.आगजनी की शिकार हुई बस दिल्ली से निकलकर हापुड़ के बहादुरगढ़ थाना क्षेत्र के स्‍याना रोड पर पहुंची तभी उसमें अचानक आग लग गई. बताया जा रहा है बस में आग शॉर्ट सर्किट की वजह से लगी. मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड टीम जब तक आग काबू पाती तब तक पूरी बस जलकर खाक हो गई थी.

12:47 pm | Posted in , , , , | Read More »

इलाहाबाद हाईकोर्ट का फैसला, सपा शासनकाल में हुई भर्तियों की जारी रहेगी CBI जांच

इलाहाबाद हाई कोर्ट ने पूर्ववर्ती समाजवादी पार्टी शासन काल में यूपी लोक सेवा आयोग में हुई भर्तियों की सीबीआई जांच के खिलाफ दायर याचिका को बुधवार को खारिज कर दिया. चीफ जस्टिस डीबी भोसले की अध्यक्षता वाली डिवीजन बेंच ने याचिका को खारिज करते हुए कहा कि यूपी लोक सेवा आयोग में सपा के शासनकाल में हुई भर्तियों की सीबीआई जांच जारी रहेगी.गौरतलब है कि 7 फरवरी को हुई सुनवाई में चीफ जस्टिस डीबी भोसले की अध्यक्षता वाली डिवीजन बेंच ने लोक सेवा आयोग के अध्यक्ष व सदस्यों ने द्वारा दाखिल याचिका पर फैसला सुरक्षित रख लिया था. याचिका में सीबीआई जांच की सरकार की अधिकारिता को चुनौती दी गई थी. 21 नवम्बर 2017 की अधिसूचना से केंद्र सरकार ने राज्य सरकार की संस्तुति पर मामले में सीबीआई जांच का आदेश दिया है. सीबीआई आयोग के पूर्व अध्यक्ष डॉ अनिल यादव के कार्यकाल में हुई भर्तियों जांच कर रही है.इससे पहले 2 जनवरी को कोर्ट ने राज्य सरकार के अधिवक्ता को निर्देश दिया था कि वह बताएं किस आधार पर मामले में सीबीआई जांच की संस्तुति की गई. याचिका में कहा गया था कि यूपी लोक सेवा आयोग एक संवैधानिक संस्था है. इसलिए सीबीआई जांच की संस्तुति अवैध है और सरकार के अधिकार क्षेत्र से बाहर है. लिहाजा आयोग के खिलाफ मौजूदा कानून के तहत कोई जांच नहीं कराई जा सकती.याचिका के खिलाफ राज्य सरकार के अधिवक्ता की दलील थी कि योग द्वारा की गई भर्तियों में अनियमितत की शिकायत मिलने पर राज्य सरकार को यह अधिकार है कि वह जांच बैठा सकती है. राज्य सरकार के संस्तुति पर केंद्र ने सीबीआई जांच के आदेश दिए हैं.गौरतलब है कि सीबीआई यूपी लोक सेवा आयोग द्वारा अप्रैल 2012 और मार्क 2017 के बीच हुई भर्तियों की जांच सीबीआई कर रही है.

12:46 pm | Posted in , , , , | Read More »

पाकिस्तान ने फरवरी में भारतीय राजदूत को छठी बार समन किया

पाकिस्तान ने नियंत्रण रेखा के पास कथित गोलीबारी के मुद्दे पर मंगलवार को भारत के उप उच्चायुक्त जे पी सिंह को इस महीने छठी बार समन किया. विदेश कार्यालय ने इससे पहले भारत के उप उच्चायुक्त को  5, 15, 20, 22 और 24 फरवरी को समन किया था.विदेश कार्यालय ने कहा कि महानिदेशक (दक्षिण एशिया और दक्षेस) मोहम्मद फैसल ने सिंह को समन किया और 27 फरवरी को निकियाल सेक्टर में भारतीय सुरक्षा बलों द्वारा बिना उकसावे के संघर्षविराम उल्लंघन की निंदा की.फैसल ने कहा कि कथित गोलीबारी में थ्रुती नारी गांव के 13 वर्षीय एक लड़के की मौत हो गई.उन्होंने कहा कि संयम बरतने के आह्वान के बावजूद भारत संघर्षविराम उल्लंघन कर रहा है और 2018 में 400 से अधिक बार संघर्ष विराम उल्लंघन किया है जिसमें 18 नागरिकों की मौत हो चुकी है.

12:38 pm | Posted in , , , , | Read More »

नहीं रहे कांची मठ के शंकराचार्य जयेंद्र सरस्वती


कांचीपुरम मठ के 82 वर्षीय शंकराचार्य जयेंद्र सरस्वती नहीं रहे.  वे काफी दिनों से बीमार चल रहे थे. उन्हें सांस लेने की तकलीफ के चलते बुधवार को कामाक्षी अम्मान हॉस्पिटल के नजदीक एक हॉस्पिटल में एडमिट करवाया गया था.वे 1994 में कांची कामाकोटी पीठम मठ के 69वे शंकराचार्य बनाए गए थे. इस साल जनवरी में भी तबियत खराब होने के कारण उन्हें हॉस्पिटल में भर्ती करवाया गया था.

मंदिर के प्रबंधक की हत्या का लगा था आरोप
जयेंद्र सरस्वती पर 2004 में अपने ही वरदराजपेरूमल मंदिर के प्रबंधक शंकररमण की हत्या का आरोप लगा था. हालांकि, 9 साल तक चले मामले के बाद कोर्ट ने 2013 में उन्हें बरी कर दिया था. आरोप था कि जयेंद्र सरस्वती के इशारे पर मंदिर परिसर में 3 सितंबर 2004 को उनकी हत्या कर दी गई. अदालत ने फैसले में कहा कि हत्या का उद्देश्य साबित न हो पाने के कारण आरोपियों को दोषी नहीं माना जा सकता. सुनवाई के दौरान मामले के 189 में 80 गवाह अपने बयानों से मुकर गए थे.

12:36 pm | Posted in , , , , | Read More »

चुनाव जीतने के लिए पुराने नेताओं से हाथ मिलाने में राहुल को संकोच नहीं

पल्लवी घोष कांग्रेस की वरिष्ठ नेता और राजस्थान की पूर्व राज्यपाल मार्गरेट अल्वा एक बार फिर से सुर्खियों में है. करीब दो साल तक कांग्रेस से दूर रहने वाली मार्गरेट अल्वा को इस बार पार्टी ने कर्नाटक में होने वाले चुनाव के लिए ज़िम्मेदारी सौंपी है. उन्हें कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस चुनाव कमेटी में जगह दी गई है.राहुल गांधी ने मार्गरेट अल्वा को एक बार फिर से ज़िम्मेदारी दे कर हर किसी को हैरान कर दिया है. दरअसल मार्गरेट अल्वा कभी सोनिया गाधी की काफी करीबी हुआ करती थीं, लेकिन बाद में वो उनकी आलोचक बन गईं. साल 2008 में सोनिया गांधी और मार्गरेट अल्वा के रिश्तों में खटास आ गई थी. 2008 के विधानसभा चुनाव में मार्गरेट अल्वा के बेटे को कांग्रेस ने टिकट नहीं दिया था. उस वक्त उन्होंने पार्टी हाईकमान की जम कर आलोचना की थी. उस वक्त उन्होंने कहा था, ''समय बदल गया है और पहली बार मैं किसी ऐसे संगठन में बेसहारा महसूस कर रही हूं जिसे मैंने अपने घर की तरह माना था. उम्मीदवारों की सूची पर एक नज़र डालें तो यहां खनन, शिक्षा और रियल एस्टेट से संबंध रखने वाले अमीर लोगों को पार्टी ने टिकट दिया है.''इसके बाद साल 2016 में उन्होंने अपनी किताब 'करेज ऐंड कमिटमेंट' में भी सोनिया गंधी पर हमले किए थे. लेकिन बावजूद इसके मार्गरेट अल्वा की एक बार फिर से पार्टी में चुपचाप वापसी हो गई है. सूत्रों के मुताबिक मार्गरेट अल्वा की वापसी एक सोची समझी रणनीति के तहत हुई है जिसे खुद कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी ने तैयार किया है.हाल ही में राहुल ने अपनी पार्टी के महासचिवों के साथ हुई एक बैठक में साफ कर दिया था कि कांग्रेस का मिशन चुनाव जीतना है और जो लोग भी इसमें योगदान कर सकते हैं उन्हें वापस लाया जाना चाहिए. उन्होंने कहा था ''कांग्रेस एक बड़ी पार्टी है और जब तक लोग पार्टी की विचारधारा मानते हैं तब तक  अलग-अलग लोगों की राय ली जा सकती है.''सूत्रों के मुताबिक राहुल गांधी अपने पुराने सहयोगियों से एक बार फिर से हाथ मिलाना चाहते हैं. शरद पवार और लालू प्रसाद यादव जैसे नेता से हाथ मिलाने में उन्हें कोई हिचकिचाहट नहीं है. असदुद्दीन ओवैसी से भी उन्हें कोई दिक्कत नहीं है. इसके अलावा जगन रेड्डी और मधु याक्षी से भी बातचीत की तैयारी चल रही है.नई साझेदारी राहुल की रणनीतियों का एक हिस्सा है. उदाहरण के तौर पर उत्तर प्रदेश में अगर समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी और कांग्रेस एक साथ आ जाए तो एक नया मोर्चा बन सकता है.राजनीतिक विश्लेषक रशीद किदवई, जिन्होंने सोनिया और राहुल को करीब से देखा है उनका मानना है कि दोनों के कामकाज के तरीके अलग-अलग हैं.उन्होंने कहा "नेहरू-इंदिरा, इंदिरा-राजीव या राजीव-सोनिया को देखें इनका काम करने के तरीके अलग-अलग थे . उसी तरह सोनिया का युग अलग था और अब राहुल भी अलग तरीके से पार्टी के लिए रणनीति तैयार कर रहे हैं''.जब राहुल ने पार्टी की कमान संभाली तो इस बात का डर था कि पुराने दिग्गजों की छटनी होगी. राहुल ने प्रेस क्लब में तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह द्वारा प्रस्तुत अध्यादेश फाड़ कर इसके संकेत भी दिए थे. ये वो समय था जब कांग्रेस लालू के साथ गठबंधन करने पर विचार कर रही थी. सोनिया हमेशा लालू की पार्टी को सबसे मजबूत सहयोगी मानती थी. उनके खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोपों के बावजूद, उनसे हाथ मिलाने को तैयार रहती थी.कहा जा रहा है कि लालू यादव से गंठबंधन को लेकर राहुल गांधी खुश नहीं थे. हाल के दिनों में राहुल ने इस बात के संकेत दिए हैं कि वो अनुशासनात्मक कार्रवाई करने में संकोच नहीं करेंगे. जैसे कि उन्होंने मणिशंकर अय्यर के साथ किया था. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को 'नीच' बताये जाने के बाद कांग्रेस ने मणिशंकर अय्यर पर बड़ी कार्रवाई करते हुए उन्हें पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया था.हाल ही में एक बैठक में राहुल ने सोनिया को कहा था कि वो पार्टी में नए और पुराने चेहरे दोनों के देखना चाहते हैं.

12:35 pm | Posted in , , , , , | Read More »

'एक राष्ट्र एक चुनाव' के मुद्दे पर बैठक आज मुख्यमंत्रियों से मिलेंगे मोदी और अमित शाह

'एक राष्ट्र एक चुनाव' के मुद्दे पर आज दिल्ली में बीजेपी के मुख्यमंत्रियों की अहम बैठक होने वाली है. इस बैठक में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह भी हिस्सा लेंगे.'एक राष्ट्र एक चुनाव' यानी लोकसभा और विधानसभा के चुनाव एक साथ कराए जाने को लेकर पिछले दिनों बीजेपी के मुख्यमंत्रियों से राय मांगी गई थी. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी इस मुद्दे को कई बार उठा चुके हैं. इसके अलावा राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी इस बार संसद के दोनों सदनों को संबोधित करते हुए इस विचार को प्रकट किया था. उनका तर्क ये था कि इससे चुनाव पर होने वाले ख़र्च कम होंगे.प्रधानमंत्री शुरू से ही कहते रहे हैं कि अलग-अलग चुनाव से विकास थम जाता है. साथ ही आचार संहिता लागू होने से विकास पर काफी असर पड़ता है.28 फरवरी यानी आज होने वाली बैठक में बीजेपी ने अपने मुख्यमंत्रियों से राय मांगी है. न्यूज़ 18 से बातचीत करते हुए बीजेपी के एक मुख्यमंत्री ने कहा, "राज्य में हमें लोगों की राय जानने के लिए कहा गया है."बीजेपी के मुख्यमंत्रियों की बैठक हर तीन महीने में होती है. इस बैठक की अध्यक्षता खुद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी करते हैं. प्रधानमंत्री यहां अगल-अलग योजनाओं के कार्यान्वयन की समीक्षा करते हैं.'एक राष्ट्र एक चुनाव' पर बहस से लोकसभा चुनाव जल्दी होने की अटकलें शुरु हो गई हैं. दरअसल इस साल नवंबर-दिसंबर में कुछ राज्यों में चुनाव होने वाले हैं और अगर 'एक राष्ट्र एक' चुनाव पर सहमति बनी तो फिर लोकसभा के चुनाव जल्दी हो सकते हैं.बीजेपी नेता और वित्त मंत्री अरुण जेटली ने इस महीने की शुरुआत में न्यूज़ 18 को दिए एक इंटरव्यू में कहा था कि कि सरकार एक साथ चुनावों के विचार का समर्थन करती है. लेकिन लोकसभा चुनाव तय समय पर ही होंगे.हलांकि विपक्ष ने एक साथ चुनाव कराए जाने के पक्ष में नहीं है. विशेषज्ञों का का भी मानना है कि लोकसभा और विधानसभा के चुनाव साथ कराने के लिए संविधान में संशोधन की ज़रूरत होगी.

12:31 pm | Posted in , , , , , | Read More »

दिल्ली सरकार के मंत्री पर हमले की साजिश LG हाउस में रची गई: आप

आम आदमी पार्टी (आप) ने मंगलवार को दिल्ली सरकार के मंत्री इमरान हुसैन पर हमले की साजिश रचने के लिए उपराज्यपाल अनिल बैजल, मुख्य सचिव अंशु प्रकाश और आईएएस एसोसिएशन पर आरोप लगाया.पार्टी ने कहा कि केन्द्र में भाजपा सरकार भी दिल्ली सरकार के काम का बहिष्कार करने के लिए आईएएस एसोसिएशन का समर्थन कर रही है.गौतलब है कि आप विधायकों प्रकाश जारवाल और अमानतुल्लाह खान द्वारा मुख्य सचिव पर कथित रूप से हमला किये जाने के बाद आईएएस एसोसिएशन दिल्ली सरकार के कामकाज का बहिष्कार किये हुए है.आप की दिल्ली इकाई के मुख्य प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने आरोप लगाया, 'दिल्ली के मंत्री इमरान हुसैन पर 20 फरवरी को हुआ शारीरिक हमला पूर्व नियोजित था और इसकी साजिश एलजी हाउस पर उपराज्यपाल, मुख्य सचिव और आईएएस एसोसिएशन ने रची थी.'

12:30 pm | Posted in , , , , | Read More »

पाकिस्तान असेम्बली में हिंदू सदस्य को शपथ लेने से रोका गया

पाकिस्तान में खैबर-पख्तूनख्वाह प्रांत की असेंबली में सत्तापक्ष और विपक्ष दोनों तरफ के सदस्यों ने एक हिंदू सदस्य को शपथ लेने से रोक दिया. उस पर एक सिख सदस्य की हत्या का आरोप है.प्रांतीय असेंबली के सदस्य निर्वाचित हुए बलदेव कुमार सिख जन प्रतिनिधि सरदार स्वर्ण सिंह की हत्या के मामले में जेल में बंद हैं. उनको शपथ लेने की इजाजत मिली थी. कुमार जब प्रांतीय असेंबली में पहुंचे तो विपक्षी सदस्यों ने शपथ लेने की इजाजत के स्पीकर के फैसले का विरोध किया. सत्तापक्ष के सदस्य भी इस विरोध में शामिल हो गए.इमरान खान की पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के सदस्य अरबाब जहांदाद खान ने कुमार की तरफ जूता फेंका जो उनसे कुछ दूरी पर गिरा. कई अन्य सदस्यों ने असेंबली के एजेंडे की प्रतियां भेजीं.कुमार शपथ नहीं ले सके और उनको जेल वापस ले जाया गया.

12:29 pm | Posted in , , , , | Read More »

2008 सीरियल ब्लास्ट का मास्टरमाइंड IM आतंकी अबू राशिद सीरिया में मारा गया

2008 में हुए सीरियल ब्लास्ट का मास्टरमाइंड और इंडियन मुजाहिद्दीन और इस्लामिक स्टेट का आतंकी अबू राशिद सीरिया के इदलिब में मारा गया है. राशिद इंडियन मुजाहिदीन के प्रमुख आतंकियों में से एक था और सीरियल बम ब्लास्ट के बाद पाकिस्तान भाग गया था.साल 2015 से राशिद रक्का में आईएस का ऑपरेटिव बन गया और भारत से नौजवानों को बरगला कर सीरिया ले जाने की घटनाओं के पीछे उसी का हाथ बताया जाता है.

12:28 pm | Posted in , , , , , | Read More »

हक्कानी नेटवर्क और दूसरे संगठनों के खिलाफ कार्यवाही करे पाक: अमेरिका

अमेरिका की एक वरिष्ठ अधिकारी ने पाकिस्तान से कहा है कि वह हक्कानी नेटवर्क और दूसरे आतंकवादी संगठनों पर कार्यवाही करे तथा टेरर फंडिंग से जुड़े इंटरनेशनल ग्रुप्स की चिंताओं को खत्म करे.दूतावास ने एक बयान में कहा, 'लीजा कर्टिस ने पाकिस्तान सरकार से आग्रह किया कि वह हक्कानी नेटवर्क की लगातार मौजूदगी से जुड़ी चिंता को दूर करे और इस बात को दोहराया कि पाकिस्तान की मनी लांड्रिंग विरोधी/आतंकवाद विरोधी व्यवस्थाओं के अमल में खामियों को लेकर इंटरनेशनल समुदाय में लंबे समय से चिंता है.'अफगानिस्तान में भारतीय हितों पर कई आतंकी हमलों के लिए जिम्मेदार हक्कानी नेटवर्क ने अमेरिका से जुड़े हितों को भी निशाना बनाया है.पाकिस्तानी अधिकारियों के साथ मुलाकातों में लीजा कर्टिस ने कहा कि अमेरिका पाकिस्तान के साथ एक ऐसे नए रिश्ते की दिशा में बढ़ना चाहता है जो क्षेत्रीय स्थिरता और सुरक्षा के लिए खतरा पैदा करने वाले सभी आतंकवादी संगठनों को शिकस्त देने के लिए साथ मिलकर काम करने पर आधारित हो.उन्होंने आतंकवाद से मुकाबले में पाकिस्तान की कुर्बानियों को भी स्वीकार किया.

12:26 pm | Posted in , , , , , | Read More »

अमेरिका ने 7 संगठन और दो लोगों को वैश्विक आतंकवादी घोषित किया

अमेरिकी विदेश विभाग ने मंगलवार को बताया कि उन्होंने इस्लामिक स्टेट से संबद्ध दो समूहों और दो लोगों को विशेष रूप से नामित आतंकवादी (एसडीजीटी) घोषित किया है.समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, इन सात समूहों में से तीन आईएस-पश्चिम अफ्रीका, आईएस-फिलीपींस, आईएस-बांग्लादेश को विदेशी आतंकवादी संगठन (एफटीओ) घोषित किया गया है.अमेरिकी लोगों के आमतौर पर इन समूहों के साथ लेनदेन पर प्रतिबंध रहता है और इनकी संपत्तियों को फ्रीज कर दिया जाता है. इसके अलावा जानबूझकर इन समूहों की किसी भी तरीके से मदद करना या किसी तरह का षडयंत्र रचना अपराध है.इन अलावा चार समूह आईएस-सोमालिया, जुंद अल-खलीफा-ट्यूनिशिया, आई-मिस्र और मॉते समूह है. इसके साथ ही जिन दो लोगों को वैश्विक आतंकवादी सूची में डाला गया है, वे महदा मोआलिम और अबू मुसाब अल-बरनावी है.

12:25 pm | Posted in , , , , , | Read More »

अमेरिकी मिलिट्री बेस में संदिग्ध लिफाफा खोलने से 11 बीमार

अमेरिका के वर्जीनिया के मिलिट्री बेस में एक संदिग्ध लिफाफा खोलने के बाद 11 लोग बीमार पड़ गए. इस लिफाफे में कोई संदिग्ध पदार्थ बताया जा रहा है.समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, आर्लिगटन काउंटी के दमकल विभाग ने ट्वीट कर कहा कि इस संदिग्ध लिफाफे से बेस मेयर-हेंडरसन हॉल की प्रशासनिक इमारत में अफरा-तफरी मच गई.दमकल विभाग के मुताबिक, पीड़ितों में से तीन को इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया है और इनकी हालत स्थिर बताई जा रही है. अमेरिकी नौसैनिकों का कहना है कि यह संदिग्ध लिफाफा फॉर्ट मेयर में आया था और यहीं पर इसे खोला गया. मामले की जांच की जा रही है.

12:24 pm | Posted in , , , , , | Read More »

इस ख़ास वजह से टीम इंडिया को मिली थी साउथ अफ्रीका में सफलता


टीम इंडिया के कार्यवाहक कप्तान रोहित शर्मा का मानना है कि भारत ने कभी भी विपरीत परिस्थितियों पीछे नहीं हटा और सभी ने आक्रामक क्रिकेट खेली जिससे वे सीमित ओवरों की सीरीज़ में विजेता बने.भारत ने 24 फरवरी को दक्षिण अफ्रीका को सात रन से हराकर तीन मैचों की टी20 सीरीज़ 2-1 से अपने नाम की. इसके बाद रोहित ने कहा, ‘हम ये सीमित ओवरों की ट्रॉफियां ले जायेंगे, पूरी सीरीज़ में हम काफी आक्रामक होकर खेले. एक टीम के तौर पर हम किसी भी परिस्थिति से नहीं घबराये. यही कारण है कि हम यहां विजेता के तौर पर खड़े हैं.’रोहित ने इस शानदार प्रदर्शन के लिये अपने गेंदबाज़ों की प्रशंसा की. उन्होंने कहा,‘हमने कुछ योजनाओं पर चर्चा की और ये कारगर रहीं. हमने गेंद को स्टंप पर रखने की योजना बनायी और पहले छह ओवर में कसी गेंदबाज़ी की. इसका श्रेय नयी गेंद से गेंदबाज़ी करने वाले गेंदबाजों को जाता है. यह पूरी तरह से गेंदबाजी प्रदर्शन था.’रोहित ने कहा,‘सच कहूं तो हमारा स्कोर 15 रन कम था. क्योंकि पहला हाफ जिस तरह से रहा, मुझे लगता कि हम रास्ता भटक गये हैं. ऐसी चीजें होती हैं और हम इनसे सीख लेते हैं. मुझे लगता है कि यह अच्छा स्कोर था और गेंदबाज़ों ने हमारे लिये अच्छा काम किया. मुझे उम्मीद है कि इस तरह के मैच हमें काफी चीजें सीखाते हैं.’

डुमिनी ने भी माना टीम इंडिया का लोहा
दक्षिण अफ्रीका के कार्यवाहक कप्तान जेपी डुमिनी ने भारत को श्रेय देते हुए कहा कि उसने पावर-प्ले में बल्ले और गेंद से दबदबे भरा प्रदर्शन किया.उन्होंने कहा,‘उन्होंने पावर-प्ले में काफी अच्छी गेंदबाज़ी की और हम बाउंड्री नहीं लगा सकते. पावर-प्ले में उनकी और हमारी बल्लेबाज़ी में 30 रन का फर्क था. मुझे निश्चित रूप से लगा था कि 170 रन का स्कोर हासिल किया जा सकता है.’

2:59 pm | Posted in , , , , , , | Read More »

श्रीदेवी के निधन पर शिरीष कुंदर ने किया ऐसा ट्वीट कि नाराज हो सकता है बॉलीवुड

फिल्म मेकर और कोरियोग्राफर फराह खान के डायरेक्टर पति शिरीष कुंदर एक बार फिर सुर्खियों में हैं. इसकी वजह है श्रीदेवी के निधन की खबर उनका ट्वीट. पहले तो शिरीष ने बॉलीवुड एक्ट्रेस के जाने के पर दुख जताया. लेकिन दिन बीतते-बीतते वह सोशल मीडिया पर लगी श्रीदेवी की तस्वीरों की झड़ी से इतने 'आहत' हुए कि बॉलीवुड को अवसरवादी बता दिया.शिरीष ने ट्वीट किया, उम्मीद है कि एक दिन हम समझेंगे कि किसी का निधन उस सेलेब के साथ तस्वीर शेयर करने का मौका नहीं है. बता दें कि राम गोपाल वर्मा, ऋतिक रोशन, प्रियंका चोपड़ा से लेकर उर्वशी रौतेला सभी सेलेब्स ने श्रीदेवी के साथ अपनी तस्वीरें शेयर कीं.54 साल की उम्र में इस दुनिया से जाने वाली 'चांदनी' के जाने का गम सोशल मीडिया पर देखने को मिला. सेलेब्स के अलावा उनके फैन्स ने भी इंटरनेट पर #RIP मैसेज की बाढ ला दी थी. दिल का दौरा पड़ने के चलते इस दुनिया को अलविदा कहने वाली श्रीदेवी को श्रद्धांजलि देने के लिए फिलहाल भीड़ लगी हुई है. रेखा, शबाना आजमी, शिल्पा शेट्टी, अर्जुन कपूर, अनुपम खेर समेत तमाम सेलेब्स उनके अंतिम दर्शनों के लिए पहुंच रहे हैं.  

2:57 pm | Posted in , , , , , | Read More »

रोक के बावजूद बजरी खनन जारी, अवैध खनन कर बजरी ले जाते 35 ट्रक जब्त

सुप्रीम कोर्ट ने बजरी खनन पर रोक लगा रखी है. बावजूद इसके लगातार बजरी दोहन किया जा रहा है. सोमवार को भरतपुर की बयाना थाना पुलिस ने कार्रवाई करते हुए करीब 35 ट्रक, डंपर और ट्रेलर को जप्त किया है. जिनमें अवैध रूप से लाई गई बजरी भरी हुई थी. पुलिस कार्रवाई से अवैध खनन कर बजरी ला रहे वाहन चालकों में हड़कंप मच गया और वह अपने आप को बचाने के लिए इधर उधर भागने नजर आए. इस दौरान पुलिस ने चारों तरफ नाकाबंदी कर सभी ट्रकों को जप्त कर लिया है.पुलिस की कार्रवाई के दौरान अधिकांश ट्रक चालक मौके से भाग निकलने में कामयाब हो गए है. हालांकि, कुछ ट्रक चालकों को पुलिस ने पकड़ लिया है. जिन्हें पुलिस हिरासत में लेकर कडी पूछताछ की जा रही है. शुरुआती पूछताछ में पुलिस को सवाई माधोपुर से अवैध रूप से बजरी लाने की बात सामने आ रही है.पुलिस उपाधीक्षक हिमांशु शर्मा ने बताया कि सभी ट्रक व डंपरों में लगभग 70 टन से ज्यादा बजरी भरी हुई है. उन्होंने बताया कि ये सभी लोग गांव के कच्चे रास्तों के जरिए बजरी ट्रकों को लेकर आते हैं. पुलिस ने कार्रवाई कर सभी ट्रकों को अलग अलग गांव से पकड़ा हैं.

2:56 pm | Posted in , , , , | Read More »

खंडूड़ी लाए थे मगनलाल को राजनीति में, यूकेडी के टिकट पर भी लड़ा था चुनाव

थराली के विधायक मगनलाल शाह का जीवन सफलता न मिलने तक हार न मानने की कहानी कहता है. बीजेपी से जीवन शुरू करने वाले मगनलाल पार्टी के सम्मान न देने पर एक बार उसके ख़िलाफ़ चुनाव भी लड़ चुके हैं.चमोली के नलगांव निवासी मगनलाल शाह सर्राफा व्यापारी थे और ए ग्रेड के ठेकेदार भी थे. दसवीं पास शाह को 1992-94 में मेजर जनरल भुवन चंद्र खंडूरी राजनीति में लाए थे. उन्हें मेजर खंडूड़ी के करीबियों में गिना जाता था. वर्ष 2002 के पहले चुनाव में शाह ने बीजपी से टिकट मंगा लेकिन पार्टी ने विश्वास न जताते हुए पिंडर विधानसभा क्षेत्र से गोविंद लाल शाह को टिकट दिया था.मगन लाल शाह पार्टी के अनुशासित सिपाही की तरह मान गए और पिंडर विधानसभा क्षेत्र में बीजेपी को जीत हासिल हुई. 2007 विधानसभा चुनाव में उन्होंने फिर से बीजपी से टिकट मांगा लेकिन पार्टी ने दोबारा गोविंद लाल शाह पर भरोसा जताते हुए उन्हें ही टिकट दिया. इस पर मगन लाल शाह ने बगावत करके यूकेडी के टिकट लेकर चुनाव लड़ा लेकिन जीत बीजपी उम्मीदवार गोविंद लाल शाह को मिली.इसके बाद मगनलाल शाह पंचायत स्तर पर मैदान में कूदे और त्रिस्तरीय पंचायती चुनाव में अपने क्षेत्र पंचायत वार्ड गंडी कफ़ौली क्षेत्र से चुनाव लड़ा और क्षेत्र पंचायत सदस्य बने. 2008-09 में नारायणबगड़ विकासखण्ड के ब्लॉक प्रमुख बने. बताया जाता है कि प्रमुख बनने के समय भी बराबर सदस्यों का समर्थन मिलने के चलते टॉस हुआ था जिसमें मगन लाल शाह जीते ओर प्रमुख बनाए गए.वर्ष 2012 के विधानसभा चुनाव में पार्टी ने लगातार 2 बार विजेता रहे गोविंद लाल शाह की बजाय मगन लाल शाह पर भरोसा जताया और बीजपी के टिकट पर चुनाव लड़े. मगनलाल को टिकट तो मिल गया लेकिन जीत नहीं. उनके विपक्षी कांग्रेस उम्मीदवार डॉक्टर जीतराम ने उन्हें कड़े मुकाबले में 400 वोट के अंतर से चुनाव हरा दिया.वर्ष 2017 के विधानसभा सभा चुनावों में एक बार फिर पार्टी ने मगन लाल शाह पर भरोसा जताया और मगन लाल शाह ने भी इस भरोसे पर खरा उतरते हुए लगभग 4300 के अंतर से डॉक्टर जीतराम को हराया और विधानसभा पहुंचे. शाह बीजेपी के अनुसूचित जाति मोर्चे के प्रदेश अध्यक्ष का पद भी सम्भाल चुके हैं.

2:54 pm | Posted in , , , | Read More »

होमगार्ड जवानों ने ली जल समाधि,कहा-सरकार का कोई प्रतिनिधि नहीं आया मिलने

जयपुर में पिछले छह दिन से अपनी मांगों को लेकर होमगार्ड धरने पर बैठे हैं. सरकार इनकी मांगों पर कोई ध्यान नहीं दे रही है. सोमवार को धरने पर बैठे होमगार्ड जवानों ने जल समाधी लेकर अपने आंदोलन को और गति दे दी है. एक महिला जवान सहित दो अन्य जवानों ने शरीर के आधे हिस्से को पानी में डूबा रखा है.धरने पर बैठे जवानों का कहना है कि हमने सरकार को हमारी मांगों को लेकर कई बार अवगत कराया है. इसके बावजूद हमारी ओर किसी का ध्यान नहीं है. इतना ही नहीं इन 6 दिनों में सरकार का कोई भी प्रतिनिधि हमसे मिलने तक नहीं आया है. राजस्थान होमगार्ड अध्यक्ष झलकनसिंह का कहना है कि इन लोगों ने यह जल समाधी तब तक लेने का निर्णय लिया है, जब तक सरकार उनकी मांगों को नहीं मान लेती है. अगर सरकार ने मांगे नहीं मानी तो इसी जल में डूबकर हम लोग जान दे देंगे जिसकी जिम्मेदारी सरकार की होगी.गौरतलब है कि देश के 17 राज्यों में होमगार्ड को पुलिस कांस्टेबल का दर्जा और वेतन दिया जा रहा है. राजस्थान के होमगार्डो के लिए सुप्रीम कोर्ट, मानवाधिकार आयोग और हाईकोर्ट मानदेय बढ़ाने के आदेश कर चुका है. लेकिन, सरकार ने एक बार भी इस ओर ध्यान नहीं दिया और ऐसी कोई घोषणा प्रदेश के होमगार्ड जवानों के लिए नहीं की है.

2:47 pm | Posted in , , , , | Read More »

मोदी सरकार के फैसले से एमपी के किसान मायूस, 'दुश्मन' को मिला फायदा


मध्य प्रदेश के मालवा और राजस्थान के मेवाड़ में अफीम उत्पादक किसानों के लिए बुरी खबर है. केंद्र सरकार ने चीन से भी पोस्ता आयात शुरू कर दिया है. इसके बाद नीमच में देश की सबसे बड़ी मंडी में पोस्ते के भाव 6 से 8 हजार रुपए गिर गए हैं. किसानों में सरकार के इस फैसले से मायूसी है.दरअसल, केंद्र सरकार ने टर्की के बाद अब चीन से पोस्तदाना आयात शुरू कर दिया है. विदेशों से पोस्तदाना आने की खबर से मंडियों में पोस्त के भाव में गिरावट आ रही है. एक महीने में पोस्त के भाव निचले स्तर पर पहुंच गए है. किसानों का कहना है कि अभी केवल विदेश से पोस्ता आने की आहट के बाद दामों में भारी गिरावट है. विदेशी पोस्ता के भारतीय बाजार में आने के बाद दाम में और गिरावट दर्ज होगी.किसान कंवरलाल का कहना है कि जनवरी में भाव 58 से 60 हजार रुपए क्विंटल थे. अब बाजार में प्रति क्विंटल दाम 35 से 40 हजार के बीच आ गए है.राधेश्याम धनगर का कहना है कि भाजपा यूं तो चीनी सामान के विरोध का शोर मचाती है. वहीं, मोदी सरकार के ऐसे फैसले से चीन को ही फायदा पहुंचाया जा रहा है.दरअसल, विदेश से आने वाला पोस्त छना हुआ तथा कम भाव पर मिलता है. मोदी सरकार ने आयात की अनुमति दी तो शिवराज सरकार ने डोडा चूरा विक्रय के नियम के साथ पोस्ता भूसा नियम भी विलोपित कर दिया. इस नियम में व्यापारियों को पोस्तादाना छानने की पात्रता होती थी. यह नियम विलोपित हो जाने से व्यापारियों को डर है कि उन पर एनडीपीएस एक्ट के तहत कार्रवाई ना हो जाए.पोस्ता दाना यानी खसखस यूं तो खाद्य मसाला पदार्थ में आती है, लेकिन अफीम से निकलने वाले इस उत्पाद में शिवराज सरकार के एक नियम को विलोपित करने की वजह से व्यापारियों को एनडीपीएस एक्ट में पकड़े जाने का डर सताता है. ऐसे में भारतीय पोस्ता क्वालिटी में विदेशी पोस्ते के सामने टिक नहीं पाता है.


पोस्ता दाना आखिर होता क्या है...!
-अफीम के फल डोडे को चीरा लगाकर उसका दूध इकट्ठा किया जाता है. 
-डोडे से निकला यह दूध ही अफीम होता है.
-अफीम निकलने के बाद डोडा सूख जाता है और उसमें से पोस्ता दाना या खसखस की प्राप्ति होती है. 
-खसखस निकालने के बाद बचा हुआ डोडा का चूरा नशा करने वाले लोग उबाल कर चाय की तरह पीते हैं.

अफीम फसल की पूरी प्रकिया में खसखस ही एकमात्र ऐसा उत्पाद है, जिसे बाजार में बिना लाइसेंस के बेचा या खरीदा जा सकता है.

2:46 pm | Posted in , , , , | Read More »

बजट सत्र : अभिभाषण में गर्वनर सत्यपाल मलिक ने की बिहार सरकार की जमकर तारीफ

बिहार विधानमंडल का बजट सत्र शुरू हो गया है. संयुक्त सदन को संबोधित करते हुए राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने नीतीश सरकार की जमकर तारीफ की. उन्होंने कहा कि बिहार हरेक क्षेत्रों में तेजी से विकास कर रहा है. शराबबंदी के बाद बिहार में अपराध में कमी आई है. फिरौती, लूट और डैकती के अधिकांश मामलों का उद्भेदन किया गया है. लॉ एंड ऑर्डर सरकार की प्राथमिकता है. क्राइम के मामले में बिहार देश में 22वें स्थान पर है. बिहार में पुलिस की बड़े पैमाने पर बहाली की जा रही है.राज्यपाल ने कहा कि लोक शिकायत कानून के लागू होने से लोगों को समय पर न्याय मिली है. उन्होंने कहा कि सरकार का कर राजस्व में बढ़ोतरी हुआ है. राज्य में सतत विकास हुआ है. महिलाओं के लिए सरकार ने कई बड़े कदम उठाए हैं, सभी जिलों में महिला हेल्पलाइन की शुरूआत की गई है. युवाओं के लिए कई योजनाएं चलाई जा रही है. स्टार्टअप योजना के बिहार के युवा फायदा उठा रहे हैं. राज्य के लगभग 300 कॉलेजों में मुफ्त वाई-फाई सेवा की शुरुआत की गई है.सत्यपाल मलिक ने कहा कि शिक्षा के क्षेत्र में काफी सुधार हुआ है. अब राज्य में सिर्फ एक प्रतिशत की बच्चे स्कूल से बाहर हैं. बिहार की जनता को इलाज के लिए बाहर ना जाना पड़े इसके लिए राज्य के सरकारी अस्पतालों को आधुनिक बनाया जा रहा है. साथ ही सड़कों को और बेहतर किया जा रहा है. बिहार के किसी हिस्से से 6 घंटे में राजधानी पहुंचने की योजना पर तेजी से काम किया जा रहा है. ग्रामीणों सड़कों के रख रखाव पर भी विशेष ध्यान दिया जा रहा है.उन्होंने कहा कि इस साल के अंत तक 4000 मेगावाट बिजली उत्पादन का लक्ष्य रखा गया है. बिजली के मामले में बिहार आत्मनिर्भर बन रहा है. बिहार में कृषि के विकास के लिए तीसरा कृषि मैप बनाया गया है और इसका उद्देश्य किसानों के हालात को बदलना है. तीसरे कृषि रोड मैप से राज्य के किसानों की आय बढ़ेगी.

2:37 pm | Posted in , , , , | Read More »

राम मंदिर बनने से दुनिया की कोई ताकत नहीं रोक सकती: विनय कटियार

बाराबंकी में बीजेपी के राज्यसभा सांसद विनय कटियार ने राम मंदिर को लेकर एक बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि कुछ भी हो, राम मंदिर उसी स्थान पर बनेगा, जहां रामलला विराजमान हैं. उसे दुनिया की कोई ताकत नहीं रोक सकती. कटियार ने कहा कि राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद मामले में वह सुप्रीम कोर्ट के निर्णय का इंतजार कर रहे हैं. इससे पहले मै कोई टिप्पणी नहीं कर सकता. लेकिन हमारे लिए एक अच्छी बात ये जरूर है कि सुप्रीम कोर्ट में दिन प्रतिदिन सुनवाई स्वीकार कर ली है. अब कोर्ट के फैसले के आधार पर निर्णय होगा.उन्होंने कहा कि जहां भगवान स्थापित हैं वह वहीं विराजमान रहेंगे. वह भूमि भगवान राम की है और कोई ताकत वहां मंदिर बनने से नहीं रोक सकती. विनय कटियार ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और योगी आदित्यनाथ मिलकर देश और प्रदेश के लिए सजगता से काम कर रहे हैं. योगी जी के राज में बदमाश खुद थानों में जाकर सरेंडर कर रहे हैं. इन्वेस्टर्स समिट पर बोलते हुए विनय कटियार ने कहा कि देश के बड़े-बड़े उद्योगपति उत्तर प्रदेश में निवेश करने जा रहे हैं.उत्तर प्रदेश देश में सबसे बड़ा आबादी वाला प्रदेश है. यहां उद्योगपति निवेश करेंगे तो यहां का विकास होगा. वहीं बेरोजगारों को रोजगार के अवसर मिलेंगे. पंजाब नेशनल बैंक और कानपुर के कोठारी बंधुओं के घोटाला मामले पर सांसद विनय कटियार ने कांग्रेस पर जमकर आरोप लगाए. कटियार ने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि ये सारे घोटाले कांग्रेस के समय के हैं. हमारी सरकार किसी को बख्शने वाली नहीं है. कटियार ने कहा कि कांग्रेस के पास कोई मुद्दा नहीं बचा है इसलिए वह हमारी सरकार पर आरोप लगा रही है.

2:29 pm | Posted in , , , , , | Read More »

रोटोमैक फ्रॉड: कोठारी को लोन देने वाले बैंक अधिकारियों से CBI करेगी पूछताछ


यूपी के कानपुर के तिलकनगर इलाके के रोटोमैक कंपनी के मालिक विक्रम कोठारी पर बैंक लोन में हेराफेरी करने के आरोप में फिलहाल सीबीआई की रिमांड पर है. सीबीआई टीम उनसे घंटों पूछताछ कर रही है. वहीं सीबीआई की टीम जल्द ही बैंक के अधिकारियों से भी पूछताछ के लिए दिल्ली तलब कर सकती है. सूत्रों की मानें तो 2008 से 2014 तक के बैंक अधिकारियों की लिस्ट मांगी गई है. जिन्होंने कोठारी को बैंक लोन दिया था.रोटोमैक कंपनी के मालिक विक्रम कोठारी और उनके बेटे राहुल कोठारी को कोर्ट ने 11 दिन की सीबीआई कस्टड़ी रिमांड पर है. राहुल कोठारी विक्रम कोठारी के इकलौते बेटे हैं. जहां सीबीआई की टीम उनसे पूछताछ कर रही है.

'रोटोमैक ग्लोबल' के सीएमडी हैं कोठारी

पान पराग के बाद कोठारी समूह का दूसरे सबसे चर्चित ब्रांड में शुमार था उनका रोटोमैक पेन, जिसके बाद कोठारी समूह का नाम देश के ‘पेन किंग’ के रुप में भी शुमार हो गया. सीबीआई द्वारा हिरासत में लिए गए रोटोमैक ग्लोबल के सीएमडी विक्रम कोठारी ने ही वर्ष 1992 में रोटोमैक ब्रांड शुरू किया था.विक्रम कोठारी के सामाजिक कार्यों में अहम योगदान के कारण लायन्स क्लब ने उन्हें वर्ष 1983 में गुडविल एंबेसडर औ बाद में लायंस क्लब का इंटरनेशनल निदेशक भी बनाया था. रोटोमैक पेन इतना बड़ा ब्रांड बना कि सलमान खान और रवीना टंडन जैसे सितारे रोटोमैक कंपनी के ब्रांड एंबेसडर रह चुके हैं.विक्रम के कारोबारी में रोटोमैक एक्सपोर्ट्स प्राइवेट लिमिटेड, कोठारी फूड्स एंड फ्रैगरेंसेज, क्रॉउन एल्बा राइटिंग इंस्ट्रूमेंट्स, मोहन स्टील्स लिमिटेड, आरएफएल इंफ्रास्ट्रक्टरर्स प्राइवेट लिमिटेड, रेव इंटरटेनमेंट प्राइवेट लिमिटेड और कानपुर और लखनऊ में रियल इस्टेट कारोबार शामिल हैं.


इन बैंकों की राशि है बकाया -

बैंक ऑफ इंडिया- 754.77 करोड़

बैंक ऑफ बड़ौदा- 456.63 करोड़

इंडियन ओरवसीज बैंक- 771.77 करोड़

यूनियन बैंक ऑफ इंडिया- 458.95 करोड़

इलाहाबाद बैंक- 330.68 करोड़

बैंक ऑफ महाराष्ट्र- 49.82 करोड़

ऑरियंटल बैंक ऑफ कॉमर्स- 97.47 करोड़उल्लेखनीय है रोटोमैक ग्लोबल के सीएमडी विक्रम कोठारी पर 4000 करोड़ रुपए का अलग- अलग बैंकों से लोन लेने और धोखाधड़ी करके पैसे बैंक को वापस नहीं करने का आरोप है.

2:24 pm | Posted in , , , , | Read More »

सर्वाधिक पढ़ी गयी

Recently Added

Recently Commented